" /> शिवसेना का प्रयास : 7 गांव के तीन हजार किसानों ने ली राहत की सांस

शिवसेना का प्रयास : 7 गांव के तीन हजार किसानों ने ली राहत की सांस

टूटे बांध का निर्माण कार्य शुरू
ढाई से तीन हजार छोटे-बड़े किसानों की कृषि भूमि को बचाने के लिए अंग्रेजों के जमाने का जो बांध बनाया गया है, वह पिछले वर्ष हुई भारी बरसात के दौरान टूट गया था। आगामी मॉनसून के दौरान खाड़ी का खारा पानी खेतों को बर्बाद कर सकता है, इसी आशंका से डरे किसान पिछले 7 महीनों से खारलैंड विभाग से बांध की मरम्मत किए जाने की गुहार लगा रहे थे। आखिर शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक द्वारा कड़ा रुख अपनाए जाने के बाद बुधवार से मरम्मत का काम शुरू हो गया है। यह जानकारी लड़ा खार गुनी संस्था के अध्यक्ष संजय पाटील ने दी है।
अंग्रेजों के जमाने के बांध का हाल बेहाल
घोडबंदर रोड स्थित भायंदर पाढ़ा से वाघविल तक उल्लास खाड़ी के बगल में 9 फुट ऊंचा तथा 15 फुट चौड़ा बांध बनाया गया है। अंग्रेजों ने इस बांध का निर्माण किसानों की कृषि भूमि को खाड़ी के खारे पानी से बचाने के लिए बनवाया था। वर्ष 1960 में इस बांध की ऊंचाई तथा चौड़ाई बढ़ाई गई। इस काम को करीब 60 वर्ष पूरे हो गए। मॉनसून के दौरान अक्सर बांध में छोटे-मोटे दरार या लीकेज की घटनाएं होती रही, पर किसान इसकी शिकायत करने के बजाय खुद ही मरम्मत का काम पूरा करते रहे। पुराने पड़ चुके बांध की मरम्मत मुकम्मल तरीके से शुरू की जाए। यह मांग वर्षों से की जा रही है।
एक बांध और 7 गांव
ठाणे मनपा क्षेत्र अंतर्गत प्रभाग क्र-1 स्थित ओवला मोगरा पाढ़ा परिसर में 7 गांव स्थित है। करीब 3 हजार किसान 800 एकड़ कृषि भूमि पर खेती का काम करते हैं। खाड़ी के खारे पानी से बचाव करने के लिए जो बांध बनाया गया है। वह पिछले वर्ष भारी बाढ़ एवं बरसात के दौरान 7 जगहों पर टूट गया था। इस बांध के मरम्मत की जिम्मेदारी खारलैंड विभाग के पास है। इसकी मरम्मत हेतु ओवला खारगुणी संस्था के माध्यम से कलवा स्थित विभागीय कार्यालय में आवेदन किया गया था तथा लगातार उसका अनुसरण किया जा रहा था। लॉकडाउन का बहाना बनाकर अधिकारियों के टालमटोल रवैए से आहत गांववालों ने स्थानीय शिवसेना नगरसेविका नम्रता रवि घरत से शिकायत की। रवि घरत ने इसकी जानकारी स्थानीय शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक को दी। सरनाईक ने विभाग के अधिकारियों को जमकर हड़काया औऱ लॉकडाउन में इस काम को अत्यावश्यक सेवा में शामिल करने और जल्द से जल्द काम शुरू करने का निर्देश दिया। सरनाईक द्वारा अपनाए गए कड़े रुख के बाद मंगलवार से मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया है।
किसानों में खुशी की लहर
लढा खारगुणी के अध्यक्ष संजय पाटील ने बताया कि मरम्मत का काम शुरू होने के बाद किसानों में खुशी का माहौल है। इस जमीन पर मेट्रो कार शेड बनाए जाने का प्रस्ताव है पर मुआवजा सहित अन्य मांगों का उचित समाधान न निकल पाने की वजह से किसानों ने अपनी जमीन का हस्तांतरण अभी तक नही किया है। मेट्रो अधिकारियों के साथ बातचीत चल रही है।