" /> सात दिन से लापता व्यापारी का शव यमुना में तैरता मिला

सात दिन से लापता व्यापारी का शव यमुना में तैरता मिला

करीब एक सप्ताह पूर्व लापता व्यापारी का शव नौहझील थाना क्षेत्र अंतर्गत गांव देदना खादर के समीप यमुना नदी में तैरता मिला है। शव मिलने की जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कस्बा नौहझील निवासी गोपाल अग्रवाल 42 वर्ष पिछले गुरुवार की सुबह लगभग आठ बजे घर से बाजना रोड स्थित अपनी स्पेयर पार्टस  की दुकान पर जाने की बात कहकर घर से निकला था। दूसरे दिन भी वह घर नहीं पहुंचा तो परिजनों को किसी आशंका की चिंता सताने लगी। उन्होंने सभी जगह उनकी तलाश की। शुक्रवार सुबह यमुना पुल पर उनकी चप्पल पड़ी मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने गोताखोर बुलाकर यमुना में काफी तलाश कराई। मगर व्यापारी का कहीं कोई पता नहीं चला।

गुरुवार सुबह लगभग 10 बजे देदना खादर के समीप स्थानीय ग्रामीणों ने पुलिस को यमुना नदी में एक शव दिखने की जानकारी दी, जहां परिजनों ने शव की पहचान गोपाल अग्रवाल के रुप में की। मृतक के भाई दीपक अग्रवाल ने गोपाल की हत्या की आशंका जताई है। मृतक व्यापारी गोपाल एक भोलाभाला मिलनसार स्वभाव वाला व्यक्ति था।

सीओ मांट नेत्रपाल सिंह ने बताया कि मृतक व्यापारी के परिजनों द्वारा थाने पर गोपाल की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। सात दिन बाद बुधवार को उसका यमुना नदी से शव बरामद किया गया है। व्यापारी ने आत्महत्या की है या उसकी हत्या की गई है। यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा।