" /> धारावी में कोरोना हुआ कंट्रोल : एक चौथाई रह गई रफ्तार

धारावी में कोरोना हुआ कंट्रोल : एक चौथाई रह गई रफ्तार

*70 ℅ मरीज हुए स्वस्थ
* 535 ऐक्टिव केस बचे

एशिया के सबसे बड़े स्लम धारावी में कोरोना का पहला मामला सामने आया था। झुग्गी बस्ती वाले इस इलाके में कोरोना संक्रमण फैलने की घटना को रोकने के लिए मनपा की पूरी मशीनरी जुट गई। अब इसी धारावी से अच्छी खबर आई है कि यहां कोरोना कंट्रोल में आ गया। कोरोना के 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीज ठीक हो गए हैं। अभी तक कुल 2,282 मरीजों में से 1618 ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। रविवार तक क्षेत्र में महामारी के कारण मरने वालों की संख्या 82 थी। क्षेत्र में कोरोना वायरस के 535 मरीजों का इलाज चल रहा है।

योजना हुई सफल
धारावी में इस कामयाबी के पीछे काफी बड़े प्लान का हाथ है। मनपा, एनजीओ, राज्य सरकार और अन्य कई संस्थाओं ने मिलकर लगभग चार लाख घरों में सर्वे किया। हल्के-फुल्के लक्षण वाले लोगों को भी शुरुआती स्टेज में ही क्वारंटीन कर दिया गया।

सभी सुविधा उपलब्ध
मनपा ने यह सुनिश्चित किया कि क्वारंटीन सेंटर में ही कोरोना टेस्ट की व्यवस्था की गई थी। लगातार स्क्रीनिंग, आइसोलेशन, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग, टेस्टिंग और बेहतर ट्रीटमेंट के कारण कोरोना धारावी में पूरी तरह फैल नहीं पाया। शुरुआत में आशंका जताई जा रही थी कि धारावी में ही कोरोना के मामले लाखों की संख्या को पार कर सकते हैं। तमाम प्रयासों के चलते अब धारावी में कोरोना की रफ्तार कम हो गई है। प्रतिदिन आने वाले मरीजों की संख्या भी जल्द ही दहाई के आंकड़े से कम हो सकती है।