" /> १८ वर्षों बाद हम दोनों साथ होंगे! डिनो मारिया

१८ वर्षों बाद हम दोनों साथ होंगे! डिनो मारिया

बतौर मॉडल देश-विदेश के पैâशन शोज में डिनो मारिया बहुत मशहूर हैं और सुपर मॉडल के रूप में पैâशन दुनिया में उनका एक लंबे अर्से तक बोलबाला रहा है। फिल्म ‘प्यार में कभी कभी’ से उनका बॉलीवुड डेब्यू हुआ लेकिन २००२ में रिलीज हुई फिल्म ‘राज’ से डिनो को बॉलीवुड में सफलता मिली। इस फिल्म के बाद डिनो की किसी फिल्म को उल्लेखनीय सफलता न मिलने से उनकी पहचान सॉलिड एक्टर के रूप में बॉलीवुड में नहीं बनी। इस समय डिनो ‘ऑल्ट बालाजी’ की नई वेब सीरीज ‘मेंटलहुड’ में काम कर रहे हैं। पेश है डिनो मारिया से पूजा सामंत की हुई बातचीत के प्रमुख अंश-

 ‘मेंटलहुड’ करने की कोई खास वजह?
वेब शो में काम करना टाइम कंज्यूमिंग नहीं है। आठ-दस एपिसोड्स के बाद कलाकार अपने दूसरे काम भी कर सकते हैं। आज हर दूसरा-तीसरा कलाकार वेब सीरीज कर रहा है। वेब सीरीज के विषय भी दर्शकों को लुभा रहे हैं। करिश्मा कपूर के साथ मैंने अपने फिल्म करियर का डेब्यू फिल्म ‘बाज’ के लिए किया था और आज १८ वर्षों बाद मैं और करिश्मा एक बार फिर इस वेब शो ‘मेंटलहुड’ में नजर आएंगे। ये बड़े ही इत्तफाक की बात है।
 क्या आप करिश्मा के अपोजिट किरदार निभा रहे हैं?
नहीं। इस शो में कोई भी कलाकार किसी के अपोजिट नहीं है। कहानी आज के पैरेंटिंग से जुड़ी है। आज से चंद वर्षों पहले पैरेंटिंग एक फ्लो के साथ हो जाती थी, कोई समस्या थी नहीं, जबकि हर परिवार में तीन-चार बच्चों का होना आम बात थी। बदलते वक्त के साथ हर परिवार में एक या दो बच्चे होते हैं। लेकिन पढ़ाई से लेकर बच्चों को संवेदनशीलता के साथ हैंडल करना एक टास्क हो चुका है। पैरेंटिंग यह पैरेंट्स के लिए पागलपन हो चुका है और यही है मेन्टलहुड! कहानी में मैं सरोगेसी द्वारा सिंगल पैरेंट हूं। चूंकि बच्चे के साथ मां नहीं है और उसे संभालना आसान नहीं है मेरे लिए, फिर मैं किस तरह करिश्मा, जो दूसरी एक पैरेंट है उनसे परामर्श लेता हूं। इस तरह की अंडर स्टैंडिंग है हमारे बीच।
 १८ वर्षों बाद करिश्मा के साथ काम करना वैâसा रहा?
फिल्म ‘बाज’ में मैं डेब्यूटांट था तो करिश्मा एक एस्टैब्लिश्ड हीरोइन। इसके बावजूद करिश्मा मेरे साथ काम करने को तैयार हो गर्इं। फिल्म के बाद हम टच में नहीं रहे लेकिन हमारी दोस्ती कायम रही। बहुत ही प्यारी इंसान हैं लोलो। इस शो को नारी प्रधान कहना गलत न होगा क्योंकि मेरे साथ इस शो में संध्या मृदुल, शिल्पा शुक्ला, श्रुति सेठ, तिलोत्तमा शोम जैसे उम्दा कलाकार हैं।
 क्या इस शो को हम आपका ‘कमबैक’ मान सकते हैं?
मुझे फिल्मों के जो भी प्रस्ताव मिल रहे थे वे मेरे लिए बेजान प्रोजेक्ट थे। अगर मैं उन फिल्मों को करता तो बेवजह फ्लॉप फिल्मों की लिस्ट बढ़ाता। फिल्म के फ्लॉप होने की वजह सिर्फ एक्टर नहीं, कहानी, डायरेक्टर और प्रोड्यूसर सहित सभी बराबर जिम्मेदार होते हैं लेकिन एक्टर्स पर उंगली ज्यादा उठती है। इन्हीं वजहों से मैंने ब्रेक लेना उचित समझा और सही मौके का इंतजार किया। ‘मेंटलहुड’ इस वेब शो के बाद जब कभी अच्छे प्रोजेक्ट्स आएंगे तो ही मैं उन्हें स्वीकार करूंगा।
 सुना था कि आपने वरुण धवन को फिटनेस टिप्स दी थी?
उन दिनों बॉलीवुड फिटनेस के लिए इतना सजग नहीं था। कोई अवेयरनेस नहीं थी इसके बावजूद मैं फिटनेस पर बहुत ध्यान देता था। आज से १५-२० वर्ष पहले मेरे आठ पैक्स एब्ज थे। फिटनेस के मामले में मुझे सभी जानने थे। संयोगवश वरुण धवन भी उसी जिम में पहुंचा जहां मैं वर्क आउट करता हूं। वरुण ने मुझसे कहा, ‘क्या वो मेरे साथ मिलकर वर्क आउट कर सकता है?’ मैंने कहा, ‘बिल्कुल।’ और वरुण मेरे साथ वर्क आउट करने लगा। जब उसे कोई टिप या गाइडेंस की जरूरत पड़ती मैं उसे देता। बहुत ही अच्छा और प्यारा इंसान है वरुण। मेरे लिए फिटनेस से बढ़कर कुछ और नहीं है।
जन्मतिथि – ९ दिसंबर
जन्मस्थान – बंगलुरु
कद – ५ फुट ११ इंच
वजन – ७७ किलोग्राम
प्रिय रंग – बेज ऑफ व्हाइट
पसंदीदा परिधान – ट्रैक सूट
मनपसंद व्यंजन – मटन करी, फिश प्रâाई
प्रिय कलाकार – एंजेलिना जोली
पसंदीदा फिल्म – टाइटैनिक