" /> नेपाल की गंदी चाल!, फिर सीमा पर पुलिस ने बरसाईं गोलियां

नेपाल की गंदी चाल!, फिर सीमा पर पुलिस ने बरसाईं गोलियां

लगता है नेपाल की चाल वाकई बिगड़ चुकी है। वह हिंदुस्थान के खिलाफ हर गंदा काम करने में जुटा हुआ है। दोनों देशों के बीच जारी तनाव के बीच नेपाल ने कल एक बार फिर सीमा पार से हिंदुस्थानी लोगों पर फायिंरग की। इस घटना में एक भारतीय युवक घायल हो गया है, जिसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। घायल युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है।
घटना बिहार में किशनगंज जिले के टेढ़ागाछ के फतेहपुर स्थित भारत-नेपाल सीमा पर हुई। जहां शनिवार की रात नेपाल पुलिस ने तीन भारतीय नागरिकों पर फायिंरग कर दी। इसमें एक युवक घायल हो गया। घायल युवक को अनन-फानन में इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टेढ़ागाछ लाया गया था, जिसके बाद उसे बेहतर इलाज के लिए रेफरल अस्पताल भेज दिया गया। घायल युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है। युवक का इलाज पूर्णिया में किया जा रहा है। स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि घायल युवक जितेंद्र कुमार सिंह (२५) और उसके दो साथी अंकित कुमार सिंह और गुलशन कुमार सिंह लगभग साढ़े सात बजे अपने मवेशी ढूंढने भारत-नेपाल सीमा स्थित माफी टोला और मल्लाह टोला गए थे। ग्रामीणों के मुताबिक गांव से बाहर खेत की तरफ जाने पर वहां नेपाल सीमा पर तैनात नेपाल पुलिस ने इन युवकों पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी, जिसमें जितेंद्र कुमार सिंह को गोली लगी है। नेपाल की ओर से फायरिंग की इस घटना में घायल युवक जितेंद्र कुमार सिंह को उनके दोनों साथियों और स्थानीय ग्रामीणों ने घर पहुंचाया। इस घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस और १२वीं बटालियन के एसएसबी फतेहपुर को दी गई है।

पहले भी हो चुकी है फायिंरग
इससे पहले भी नेपाल की ओर से सीमा पर फायिंरग की जा चुकी है। इस साल जून के महीने में नेपाल ने फायग की थी। इस फायिंरग में एक शख्स की मौत भी हो गई थी, जबकि चार लोग घायल हुए थे। इस घटना को बिहार में भारत-नेपाल सीमा के पास सीतामढ़ी के सोनबरसा थाना क्षेत्र की पिपरा परसाइन पंचायत में लालबंदी स्थित जानकी नगर बॉर्डर पर अंजाम दिया गया था।