" /> शिवसेना का प्रयास सफल : अंबरनाथ व बदलापुर में कोरोना की जांच में लगे आशा वर्कर व शिक्षक

शिवसेना का प्रयास सफल : अंबरनाथ व बदलापुर में कोरोना की जांच में लगे आशा वर्कर व शिक्षक

अंबरनाथ के शिवसेना नगरसेवक ने अंबरनाथ नगरपरिषद के प्रशासन को एक पत्र देकर मांग की थी कि क्यों न सभी वॉर्डों में घर-घर जाकर हर सदस्य के स्वास्थ्य का परीक्षण किया जाए? इससे कोरोना के प्रसार पर रोक लगाई जा सकती है। शिवसेना नगरसेवक के सुझाव पर गौर करते हुए  प्रशासन ने अंबरनाथ के साथ-साथ बदलापुर नपा में भी जांच की शुरुआत कर दी है।
सुभाष सालुंखे ने उल्हासनगर के एसडीओ जगतसिंह गिरासे, जो अंबरनाथ व बदलापुर नपा के प्रशासक हैं, उनको पत्र देकर मांग की थी कि कोरोना महामारी की बढ़ती संख्या को घर-घर सर्वेक्षण के द्वारा कम किया जा सकता है। प्रशासक गिरासे ने उक्त सुझाव पर अमल करते हुए अंबरनाथ के 57 वॉर्डों  में शिक्षक व आशा वर्कर की टीम बनाकर थर्मल स्कैनर से हर सदस्यों के स्वास्थ्य का परीक्षण किया जा रहा है। उसी तरह से बदलापुर के 47 वॉर्डों में भी जांच शुरू कर दी गई है। अंबरनाथ में 1,868 तो बदलापुर में 807 कोरोना के मरीज हैं। बताया गया कि बदलापुर में 100 टीम बनाई गई हैं। प्रति टीम में एक शिक्षक व एक आशा वर्कर हैं। एक दिन में 90 घरों की चेकिंग करनी है। 10 दिन में सर्वेक्षण अभियान को पूरा करना है। 2011 की जनगणना के मुताबिक बदलापुर की जनसंख्या एक लाख, 74 हजार, 226 है, तो अंबरनाथ की जनसंख्या 2 लाख, 53 हजार, 475 है।