होटल व्यवसायी से हफ्ताखोरी : शिकंजे में फंसा अनीस का अल्ताफ

दुबई से चलाता था हवाला कारोबार
फर्जी पासपोर्ट से करता था सफर
अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्रहिम कासकर के छोटे भाई अनीस के लिए मुंबई के होटल व्यवसायी से हफ्ता मांगनेवाले हफ्ताखोर को मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने केरल एयर पोर्ट से गिरफ्तार किया है। आरोपी दुबई में रहकर हवाला कारोबार चलाता था तथा अनीस के लिए हिंदुस्थान में कारोबारियों से वसूली का काम भी करता था। उसने फर्जी तरीके से दो पासपोर्ट बनवा रखे थे, जिनके सहारे वह हिंदुस्थान आया-जाया करता था।
बता दें कि वर्ष २०१७-१८ में मुंबई के एक होटल व्यवसायी को अनीस के नाम पर दुबई से धमकाया जा रहा था। व्यवसायी से हफ्ते के रूप में मोटी रकम की मांग की जा रही थी लेकिन तब व्यवसायी ने धमकियों को नजरअंदाज कर दिया। इसके बाद मुंबई में अनीस का पंटर रामदास रहाणे फोन करके व्यवसायी को धमकाने लगा। व्यवसायी ने इसकी शिकायत मुंबई पुलिस की एंटी एक्सटॉर्शन सेल में कर दी थी। मामले की जांच के बाद एक्सटॉर्शन सेल ने ४ लोगों को मकोका के तहत गिरफ्तार किया था। आरोपियों से पुलिस को पता चला कि वे दुबई में रहनेवाले मोहम्मद अल्ताफ अब्दुल लतीफ सईद के कहने पर व्यवसायी को धमका रहे थे। अल्ताफ नई मुंबई के वाशी इलाके का रहनेवाला था लेकिन वह दुबई में रहकर अनीस का हवाला कारोबार संभालता था। १२ अगस्त को अल्ताफ पर नजर रख रही एंटी एक्सटॉर्शन सेल के अधिकारियों को उसके केरल के कुन्नूर हवाई अड्डे पर आने की सूचना मिली थी, जिसके बाद एक्सटॉर्शन सेल की टीम अल्ताफ को गिरफ्तार करके मुंबई ले आई। कोर्ट ने अल्ताफ को १६ अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है।