फेक न्यूज फैलाई तो एकाउंट होगा बंद : १०० की  लिस्ट बनी

जम्मू-कश्मीर पर फेक न्यूज फैलाने वाले १०० से ज्यादा सोशल मीडिया एकाउंट्स पर गृह मंत्रालय कार्रवाई करने जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक ऐसे १०० से ज्यादा यूआरएल पर गृह मंत्रालय कार्रवाई करेगा और इन्हें बंद किया जाएगा। मंगलवार को मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी में गृह मंत्रालय, आईबी, मिलिट्री इंटेलिजेंस और सूचना प्रसारण मंत्रालय के अधिकारियों की एक हाई लेवल मीटिंग हुई। इस बैठक में आईबी, एमआई, एमएचए, और आई एन बी ने उन विवादास्पद यूआरएल की लिस्ट साझा की जो कश्मीर पर झूठी और फर्जी सूचनाएं फैला रहे थ। अब ऐसे करीब १०० यूआरएल को बैन किया जाएगा।
दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर के हालात को लेकर झूठी खबरें फैला रहे इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) और पाकिस्तानी सेना की ओर से चलाए जा रहे चार ट्विटर हैंडल को माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने मंगलवार को यह कहते हुए बंद कर दिया कि यह व्यक्तिगत खातों को हटाने पर टिप्पणी नहीं करता। ये ट्विटर अकाउंट्स घाटी के बाहर से चलाए जा रहे थे। निलंबित हुए इन खातों में सैयद अली शाह गिलानी का एकाउंट भी शामिल है। रिपोर्ट्स के आधार पर हटाने के लिए भेजे गए एकाउंट्स की सूची में सैयद अली गिलानी, वॉइस ऑफ कश्मीर, मदीहा शकील खान, अरशद शरीफ, मैरी स्कली आदि के नाम शामिल हैं। ५ अगस्त को अनुच्छेद ३७० को रद्द किए जाने और जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने के बाद से प्रदेश में लगे लॉकडॉउन को लेकर झूठी खबरें पैâलाई जा रही थीं। इसे लेकर सरकार काफी कड़े कदम उठा रही है और हरसंभव कोशिश की जा रही है कि सोशल मीडिया पर कोई अफवाह न फैले।