" /> गटर पर बनाए गए उद्यान का स्लैब ढहा : कोई जनहानि नहीं

गटर पर बनाए गए उद्यान का स्लैब ढहा : कोई जनहानि नहीं

बड़े गटर (नाला) पर बनाए गए उद्यान का स्लैब अचानक ढह जाने से उद्यान सामग्री व लोहे का लगा घेरा भी स्लैब के साथ नाले में गिर गया। यह घटना भाइंदर (पूर्व) के नवघर रोड स्थित साईबाबा नगर के मातोश्री बिल्डिंग और श्री साई गणेश सोसायटी के बीच गटर पर बने उद्यान में घटित हुई। संयोग से उस समय वहां कोई नहीं था इसलिए कोई जनहानि नहीं हुई।
बता दें कि मीरा-भाइंदर शहर में कई बड़े गटर पर स्लैब डालकर स्थानीय नगरसेवकों की निधि व मनपा के खर्चे से उद्यान, सब्जी मार्केट, वाचनालय, जॉगिंग ट्रैक तथा आने-जाने के लिए सड़क भी बनाई गई है। कई जगह गटर पर बने स्लैब के ऊपर भारी वाहनों की पार्किंग भी की जाती है। हाल ही में ऐसे ही एक गटर के स्लैब के ढह जाने से एक ट्रक उसमें फंस गई थी। इस घटना से ठेकेदारों द्वारा निकृष्ट दर्जे के कार्य किए जाने का आरोप स्थानीय नागरिकों द्वारा लगाया जा रहा है। मातोश्री बिल्डिंग और श्री साई गणेश सोसायटी के बीच गटर पर नगरसेवक निधि से बनाए गए इस उद्यान का हाल ही में सुशोभीकरण किया गया था और पूर्व उपनगराध्यक्ष स्व. दिलीप बाबर के नाम पर इसका नामकरण किया गया था। इस संबंध में मनपा के सार्वजनिक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता दीपक खांबित से पूछने पर उन्होंने कहा कि उक्त स्लैब का निर्माण करीब २० वर्ष पहले किया गया था। शीघ्र ही टूटे स्लैब का पुनर्निर्माण किया जाएगा।