" /> राज्य सरकार का बड़ा निर्णय, कल से खुलेंगे होटल-लॉज!, ई-पास का नियम रद्द

राज्य सरकार का बड़ा निर्णय, कल से खुलेंगे होटल-लॉज!, ई-पास का नियम रद्द

मुंबई जैसे महानगर में होटल व लॉज के बंद रहने से लोगों को काफी परेशानी हो रही है। इसे देखते हुए मिशन बिगन अगेन के तहत कल से होटल व लॉज को सरकार ने खोलने की अनुमति दे दी है। इसी के साथ वाहनों के लिए ई-पास की शर्त को भी रद्द कर दिया गया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य की जनता को आश्वासन दिया था कि चरणबद्ध तरीके से धीरे-धीरे लॉकडाउन को हटाया जाएगा। इसी के तहत कल राज्य सरकार ने लोगों के आवागमन में होनेवाली समस्याओं को देखते हुए ई-पास के नियम को रद्द कर दिया है। निजी वाहनों से भी यात्रा करने वाले यात्रियों को अब ई-पास की जरूरत नहीं होगी।
गौरतलब हो कि कल राज्य सरकार ने मिशन बिगन अगेन के तहत अनलॉक-४ के बारे में नियमों की घोषणा की। इसमें ई-पास का नियम रद्द होने के साथ ही होटल व लॉज शुरू करने का उल्लेख किया गया है। इसके साथ ही अंतरराज्यीय यात्रा पर प्रतिबंधों में ढील दी गई है। इससे यात्रा करते समय ई-पास की आवश्यकता नहीं होगी। अनलॉक-४ के नियमों की घोषणा करते हुए, केंद्र सरकार ने मेट्रो सेवाओं, सार्वजनिक कार्यक्रमों और शैक्षणिक संस्थानों को आंशिक अनुमति दी है। केंद्र सरकार ने यह भी कहा था कि अंतरराज्यीय यात्रा के लिए ई-पास की आवश्यकता नहीं होनी चाहिए।
इस पृष्ठभूमि पर कल मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में हुई बैठक में यह समीक्षा की गई कि राज्य में क्या रियायतें दी जा सकती हैं! राज्य सरकार की ओर से कल निमयावली घोषित की गई। ३० सितंबर तक लॉकडाउन जारी रहेगा। राज्य सरकार ने निजी के साथ-साथ मिनी बसों को भी अनुमति दी है। होटल और लॉज को भी पूरी तरह से शुरू करने की अनुमति दी गई है। स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान ३० सितंबर तक बंद रहेंगे। इसके अलावा, सिनेमा, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, बार और ऑडिटोरियम पर प्रतिबंध कायम रहेगा। धार्मिक स्थल खोलने, जिम शुरू करने की भी अनुमति नहीं दी गई है। केंद्र सरकार ने भले ही मेट्रो सेवा शुरू करने की तैयारी दर्शायी है लेकिन राज्य में कोरोना को नियंत्रित करने के लिए मेट्रो रेल सेवा शुरू करने के लिए अभी तक अनुमति नहीं मिली है।