" /> चीन की चटनी बनाएगा ‘इग्ला’, लद्दाख में मिसाइल तैनात,कंधे से छोड़ा जा सकता है

चीन की चटनी बनाएगा ‘इग्ला’, लद्दाख में मिसाइल तैनात,कंधे से छोड़ा जा सकता है

लद्दाख में अब चीन की चटनी बननी तय है। ड्रैगन की लाल सेना से किसी भी तरह की चालाकी से निपटने के लिए हिंदुस्थानी सेना पूरी तरह तैयार है। लद्दाख सीमा पर जारी तनाव के बीच हिंदुस्थान ने अपने जवानों को ‘इग्ला’ मिसाइल के साथ तैनात किया है। ये मिसाइल ऐसे वक्त में काम आती हैं, जब दुश्मन किसी भी तरह से एयरस्पेस में घुसने की कोशिश करता है। ‘इग्ला’ से उसे नाकाम किया जा सकता है। इस मिसाइल के जरिए कोई भी जवान कंधे से ही वार कर सकता है। यह मिसाइल हेलिकॉप्टर और फाइटर हेलिकॉप्टर को ढेर कर सकती है। दुश्मन का कोई भी विमान या ड्रोन अगर भारतीय सीमा में घुसता है तो उसके लिए ये इग्ला मिसाइलें खतरा हैं। इनका इस्तेमाल वायुसेना और थल सेना दोनों ही करती हैं। साफ है कि लद्दाख इलाके में चीन की किसी भी तरह की चाल से निपटने के लिए भारतीय सेनाएं तैयार हैं। बीते दिनों सीडीएस बिपिन रावत की ओर से भी यही बयान दिया गया था। बिपिन रावत ने कहा था कि अगर बातचीत से हल नहीं निकलता है तो फिर सेना के इस्तेमाल पर भी विचार किया जा सकता है। गलवान घाटी की घटना के बाद हिंदुस्थान और चीन की सेनाएं कई राउंड की बात कर चुकी हैं, हालांकि अभी तक कोई निर्णय नहीं निकल पाया है। हिंदुस्थान और चीन के बीच मई के महीने से ही तनाव की स्थिति बनी हुई है। गलवान घाटी में १५ जून को दोनों देशों की सेनाओं के बीच झड़प भी हुई थी, जिसमें भारतीय सेना के २० जवान शहीद हुए थे।