" /> अब नहीं लेगा आईआईटी मुंबई स्प्रिंग सेमेस्टर परीक्षाएं : छात्रों को  देगा ग्रेडिंग

अब नहीं लेगा आईआईटी मुंबई स्प्रिंग सेमेस्टर परीक्षाएं : छात्रों को  देगा ग्रेडिंग

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), मुंबई ने स्प्रिंग सेमेस्टर की परीक्षाएं न कराने का फैसला किया है। सभी ईयर्स के स्टूडेंट्स को थ्योरी और लैब कोर्सेज में फाइनल ग्रेडिंग अब पिछले सेमिस्टरों की परीक्षाओं के प्राप्तांकों के आधार पर दी जाएगी। यह फैसला कोरोना महामारी और लॉक डाउन की वजह से लिया गया है।
सीनेट की 2 दिन पहले बैठक में यह फैसला लिया गया कि मिड सेमेस्टर समेत पहले से हो चुकी सेमेस्टर परीक्षाओं में प्रदर्शन के आधार पर फाइनल ग्रेडिंग दी जाएगी। शिक्षक ऑनलाइन टेस्ट लेकर अधिकतम 20 फीसदी की वेटेज भी दे सकते हैं, जो छात्र पिछले पेपरों में अपने प्रदर्शन से असंतुष्ट हैं, उन्हें ‘S’ ग्रेड चुनना होगा। बाद में उन्हें 100 मार्क्स की परीक्षा में अपना प्रदर्शन सुधारने का मौका मिलेगा। प्रोजेक्ट बेस्ड कोर्स वीडियो बेस्ड कॉन्फ्रेंसिंग से ऑनलाइन चेक किए जाएंगे। केंद्र सरकार द्वारा गठित एक विशेषज्ञ समिति ने पिछले माह सुझाव दिया था कि विश्वविद्यालय ऑनलाइन परीक्षा करा सकते हैं। इस बीच कुछ आईआईटी रुड़की और आईआईटी मद्रास जैसे संस्थान सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैचेज में परीक्षा कराने की योजना बना रहे हैं, जब लॉक डाउन खुल जाएगा, तभी स्टूडेंट्स को परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा।