" /> भाजपाई के होटल में जय का जायका, दुर्दांत दुबे के साथी ने  फैलाया सत्ताधारियों का रायता

भाजपाई के होटल में जय का जायका, दुर्दांत दुबे के साथी ने  फैलाया सत्ताधारियों का रायता

कानपुर का दुर्दांत विकास दुबे मारा जा चुका है पर कहानी अभी खत्म नहीं हुई है। पता चला है कि दुर्दांत दुबे के एक साथी ने यूपी के सत्ताधारी कुछ भाजपा नेताओं के साथ मिलकर खूब रायता पैâला रखा है। इसका नाम जय बाजपेई है। इसने भाजपाई के होटल में पैसा भी लगा रखा है और कहा जा सकता है कि उस भाजपाई के होटल में जय का ‘जायका’ चल रहा है।

बता दें कि दहशतगर्द विकास दुबे के साथी जयकांत बाजपेई उर्फ जय ने शहर के दो नेताओं के होटलों में भी करोड़ों रुपए लगाए हैं। ये नेता भाजपा से जुड़े हैं। इसमें बड़ा हिस्सा विकास दुबे का है। उधर बिकरू कांड के बाद गाड़ियों से विकास और उसके गुर्गों को फरार कराने की साजिश में भाजयुमो के प्रदेश मंत्री समेत तीन पर शिकंजा कस सकता है। क्योंकि जिन गाड़ियों से विकास को फरार कराने की
तैयारी थी, वे गाड़ियां इन्हीं तीनों की हैं।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक जय ने जिन दो होटलों में पैसा लगाया है, वे भाजपा नेताओं के हैं। पुलिस की जांच में उनके नाम भी सामने आए हैं। पुलिस अब खंगाल रही है कि वारदात से इनका कोई कनेक्शन तो नहीं? जय को बचाने से लेकर पैरवी में इनकी कोई भूमिका है या नहीं? भूमिका मिलती है तो पुलिस उनसे पूछताछ कर सकती है। बिकरू कांड के बाद चार जुलाई को विजय नगर से तीन लावारिस कारें बगैर नंबर प्लेट के खड़ी मिली थीं। पुलिस की जांच में पता चला है कि ऑडी कार भाजयुमो के प्रदेश मंत्री प्रमोद विश्वकर्मा के नाम है। फॉर्च्यूनर राहुल सिंह व वरना कारोबारी कपिल सिंह के नाम है। इन तीनों कारों में जय का पैसा लगा था। जांच के दायरे में न आए इसलिए दूसरों के नाम पर ले रखी थीं। एसएसपी का दावा है कि इन्हीं तीनों गाड़ियों से विकास दुबे व उसके गुर्गों को फरार कराने की तैयारी थी। गाड़ियां रवाना भी हो चुकी थीं पर पुलिस के डर से इन गाड़ियों को छोड़ दिया गया। पुलिस अब इन पर शिकंजा कसने की तैयारी में है। पुलिस इनके खिलाफ साक्ष्य जुटा रही है। जय के तीन से चार कारोबारी दोस्त भी जांच के दायरे में हैं। वहीं उसका परिचित एक कलाकार शुरू से ही जांच की जद में रहा है। उससे पूछताछ भी हुई थी। जय के पैसों, गाड़ियों और असलहों को कलाकार ने खूब इस्तेमाल किया है। उसकी संलिप्तता है कि नहीं, इसकी भी जांच की जा रही है।