" /> कंगना पर फिर गिरी गाज….हिंदू-मुस्लिम जहर घोलने का आरोप

कंगना पर फिर गिरी गाज….हिंदू-मुस्लिम जहर घोलने का आरोप

कोर्ट ने दिए FIR के आदेश

अभिनेत्री कंगना रनौत पर फिर गाज गिरी है। कर्नाटक के बाद अब मुंबई की एक कोर्ट ने कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश मुंबई पुलिस को दिया है। इसके चलते कंगना की मुश्किलें आने वाले दिनों में अब और बढेगी। बिना सबूतों के आधार पर किसी पर इल्जाम लगाने की उनकी ये लत उनको ही डूबो रही है। कंगना पर आरोप है कि वह अपने ट्वीट एवं भड़काऊ बयान के चलते बॉलीवुड में हिंदू-मुस्लिम के बीच जहर घोलने का काम कर रही है। कंगना सहित उसकी बहन रंगोली के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया गया है।
बता दें कि कंगना रनौत के खिलाफ कुछ दिन पहले कर्नाटक के न्यायालय ने एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया था। इसके बाद कल मुंबई के बांद्रा कोर्ट ने कंगना और उसकी बहन के खिलाफ मुंबई पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। मुन्ना वराली और साहिल अशरफ सैयद ने बांद्रा कोर्ट में कंगना के खिलाफ याचिका दायर की थी। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायालय ने उक्त आदेश दिया है। साहिल अशरफ अली सैयद ने अपनी याचिका में कहा है कि कंगना ने बॉलीवुड को बदनाम करने की कोशिश की है। इसके साथ ही वे टीवी पर दिए गए इंटरव्यू एवं सोशल मीडिया के माध्यम से बॉलीवुड के खिलाफ बोल रही हैं और नफरत फैलाने का काम कर रही हैं। कंगना ने नेपोटिज्म और फेवरेटिज्म के मुद्दे पर बॉलीवुड की लगातार आलोचना की। बॉलीवुड में कंगना ने हिंदू और मुस्लिम अभिनेताओं के बीच सांप्रदायिक तनाव पैदा किया है। याचिका में आरोप लगाया गया है कि कंगना के सांप्रदायिक रंग देने से फिल्म जगत में कुछ लोगों की धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाई। याचिकाकर्ताओं ने अदालत में सबूत के तौर पर कंगना के ट्वीट और वीडियो को जमा किया है। इसके बाद न्यायालय ने मुंबई पुलिस को धारा १५६ (३) के तहत एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। याचिकाकर्ताओं ने न्यायालय जाने के पहले बांद्रा पुलिस स्टेशन का रुख किया था लेकिन पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने से इंकार कर दिया था। इसके बाद दोनों ने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। जोन-९ के पुलिस उपायुक्त अभिषेक त्रिमुखे ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर कंगना रनौत और उसकी बहन रंगोली के खिलाफ बांद्रा पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है। घटना की जांच जारी है।