" /> कांवड़ यात्रा पर भी कोरोना का साया : आयोजित कांवड़ यात्रा रद्द

कांवड़ यात्रा पर भी कोरोना का साया : आयोजित कांवड़ यात्रा रद्द

पवित्र सावन मास में भूत-भावन भगवान भोलेनाथ के लिए की जानेवाली उपासना यानी कांवड़ यात्रा पर भी कोरोना का साया पड़ गया है। ॐ शिव साई विश्वकर्मा सेवा संस्थान, डोंबिवली के द्वारा धार्मिक परंपरा के अनुसार हर वर्ष सावन महीने में कांवड़ यात्रा का आयोजन किया जाता है, जिसमें हजारों की संख्या में शिवभक्त एकजुट होकर नंगे पांव अंबरनाथ में भगवान भोलेनाथजी के प्राचीन मंदिर में जलाभिषेक कर उनकी पूजा-अर्चना करते हैं।
ॐ शिव साई विश्वकर्मा सेवा संस्थान द्वारा पिछले 18 वर्षों से लगातार निकाली जा रही ये यात्रा इस वर्ष भी 13 जुलाई को आयोजित की गई थी। परंतु इस वर्ष कोरोना महामारी के चलते शिवभक्तों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर एवं प्रशासन द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार कोरोना संक्रमण को मद्देनजर रखते हुए इस कांवड़ यात्रा को रद्द कर दिया गया है। ॐ शिव साई विश्वकर्मा सेवा संस्थान के अध्यक्ष श्रीरामजी विश्वकर्मा, उपाध्यक्ष मुसाफिर मल्लाह, सहसचिव रविन्द्र शर्मा, कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र शर्मा, घनश्याम विश्वकर्मा और संजय शर्मा आदि पदाधिकारियों ने सभी शिवभक्तों से निवेदन किया है कि इस वर्ष वे अपने घर पर ही सुरक्षित रहें। घर से ही भगवान भोलेनाथ शिवजी की पूजा-उपासना करें और भगवान से प्रार्थना करें कि इस कोरोना महामारी को वे जल्द-से-जल्द खत्म करें, ताकि अगले वर्ष हम उसी उत्साह और उमंग के साथ कांवड़ यात्रा का आयोजन कर सकें। उन्होंने सभी से अपील की है कि वे घर पर रहें, सुरक्षित रहें। सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए अपने परिवार को सुरक्षित रखते हुए शासन-प्रशासन के नियमों का पालन करें।