" /> बेरोजगारी से त्रस्त युवक ने भाई को बॉय-बॉय बोल… गंगा में लगाई छलांग

बेरोजगारी से त्रस्त युवक ने भाई को बॉय-बॉय बोल… गंगा में लगाई छलांग

मंगलवार की रात विश्व सुंदरी पुल पर एक युवक ने लॉकडाउन में आमदनी न होने और घर में तनाव और कहासुनी से आजिज़ आकर विश्व सुंदरी पुल से गंगा में छलांग लगा दी। इस दौरान युवक के साथ खड़ा उसका मौसेरा भी कुछ समझ नहीं पाया। फिलहाल घटना की सूचना पर पुलिस मछुआरों और एनडीआरएफ की सहायता से युवक को ढूंढ रही है।

लॉकडाउन के बाद हज़ारों लोगों ने बेरोज़गारी के चलते आत्महत्या की।  इसी कड़ी में मंगलवार को इंग्लिशिया लाइन निवासी आशीष श्रीवास्तव (26) का भी नाम जुड़ गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार आशीष की लॉकडाउन में ही शादी भी हुई थी। लॉकडाउन में आमदनी नहीं हो रही थी और आशीष घर बैठा था।  इसपर रोज़ाना परिवार में कहासुनी होती थी।

परिजनों के अनुसार मंगलवार को हुई कहासुनी के बाद आशीष अपनी साइकिल से घर से निकल गया और जाते-जाते यह कहा गया कि आज के बाद परिवार वाले मेरा मुंह नहीं देखेंगे। इसके बाद आशीष सीधे विश्व सुंदरी पुल पहुंचा और सामनेघाट निवासी अपने मौसेरे भाई को बुलाया और काफी देर तक पुल पर खड़े होकर अपने भाई से बात की और अपना मोबाइल मौसेरे भाई को थमा दिया और अचानक से कहा बाय बाय।

मौसेरे भाई के अनुसार जब तक वह कुछ समझता आशीष ने गंगा में छलांग लगा दी।  शोर मचाने पर मछुआरे आये और उन्होंने तलाश शुरू की पर आशीष का कोई पता नहीं चला।  फिलहाल पुलिस को सूचना दे दी गयी है।  मौके पर पहुंची पुलिस ने एनडीआरएफ की सहायता से बुधवार को दोपहर तक गंगा में युवक के शव की तलाश करता रहा लेकिन सफलता नही मिल पायी थी।