" /> श्रद्धालुओं के लिए तीन मई तक बंद रहेंगे तीर्थनगरी वृंदावन के मंदिर

श्रद्धालुओं के लिए तीन मई तक बंद रहेंगे तीर्थनगरी वृंदावन के मंदिर

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस से जंग के लिए तीन मई तक लॉक डाउन बढ़ा दिया है। इस दौरान तीर्थनगरी वृंदावन के सभी मंदिर भी श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेंगे। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के बाद मंदिरों के प्रबंधकों ने यह फैसला लिया है। उनका कहना है कि तीन मई के बाद सरकार के निर्देशों के अनुरूप ही मदिरों को श्रद्धालुओं के लिए खोलने संबंधी निर्णय लिया जाएगा।

बता दें कि 24 मार्च को पहली बार लॉकडाउन की घोषणा के बाद से ही ब्रज के प्रमुख मंदिर बंद हैं।  विश्व प्रसिद्ध ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर के प्रबंधक मुनीष शर्मा ने बताया कि लॉक डाउन के निर्णय के बाद मंदिर को सार्वजनिक रूप से तीन मई तक के लिए बंद कर दिया गया है। निधिवन राज मंदिर के सेवायत विक्की गोस्वामी ने बताया कि न्यायालय द्वारा जब तक इस संबंध में कोई आदेश नहीं दिया जाता है तब तक मंदिर में आमजन के प्रवेश पर पाबंदी रहेगी। रंगजी मंदिर की मुख्य अधिशासी अधिकारी अनिघा श्री निवासन ने बताया कि मंदिर तीन मई तक आमजन के लिए नहीं खुलेगा। इस दौरान 27 अप्रैल को मनाया जानेवाला स्वामी रामानुजम महाराज का जन्मोत्सव भी सार्वजनिक रूप से नहीं मनाया जाएगा। इसमें होनेवाले अभिषेक, पूजा-अर्चना आदि सब एकांती होंगे।