थम गया चुनावी शोर!

२०१९ लोकसभा चुनावों के प्रचार का शोर अब थम चुका है। चौथे चरण के लिए चुनाव में हिस्सा ले रहे उम्मीदवारों का भविष्य अब वोटरों की मुट्ठी में बंद है। कल मतदाता  ईवीएम मशीन का बटन दबाकर वोटरों का भविष्य तय करेंगे। गडचिरोली में मतदान के दौरान हुई हिंसा से सबक लेते हुए मुंबई में ६ सीटों सहित ठाणे व आसपास क्षेत्र की कुल १७ निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो जाए इसके लिए पुलिस और चुनाव आयोग ने सख्त इंतजाम किए हैं। लगभग ६० हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है, जिसमें सीपीएमएफ की १४ कंपनियों के साथ एसआरपीएफ की १२ कंपनियां तथा होमगार्ड के ६००० जवान भी शामिल होंगे। मुंबई में ३२५ मतदान केंद्रों को संवेदनशील चिह्नित किया गया है, जहां पुलिस का कड़ा बंदोबस्त रहेगा।
मुंबई पुलिस के अनुसार मुंबई शहर में २ लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में २,६०१ तथा  उपनगर में ४ लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में ७,४७२ बूथ बनाए गए हैं। जहां वोटर अपना वोट डालेंगे। मतदान के दौरान कोई अप्रिय घटना न घटे इसके लिए २०४ अपराधियों को शहर से तड़ीपार  किया गया है। ८,११७ लोगों से सीआरपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत शपथपत्र लिया गया है जबकि ५,७६५ लोगों को नोटिस दी गई है। ६ मामलों में एमपीडीए के तहत कार्रवाई की गई है। इसके अलावा ३९१ अवैध शस्त्र जप्त किए गए हैं। ४,८३३ लोगों के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किया गया है। एनडीपीएस के तहत ५१० मामले दर्ज किए गए हैं जिनमें १०,३९,८९४ रुपए की २,६४८ लीटर शराब जप्त की गई है जबकि एनडीपीएस की अन्य धाराओं के तहत दर्ज १८७ मामलों में  ४० करोड़ रुपए से अधिक का मादक पदार्थ जप्त किया गया है। इस दौरान १०, ५१,८२,३५२ रुपए के नोट भी बरामद किए गए हैं। चौथे चरण में १७ हजार से अधिक पुलिसकर्मी ने पोस्टल बैलट पेपर के जरिए अपने मतदान के अधिकार का उपयोग करेंगे।
मतदान केंद्रों में मोबाइल बैन
चुनाव आयोग के आदेश पर मतदान केंद्रों में मोबाइल बैन किया गया है। चुनाव विभाग ने मतदाताओं से आह्वान किया है कि मतदान के समय मतदान केंद्रों में मोबाइल न ले जाएं
महत्वपूर्ण मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग से नजर
मुंबई-ठाणे और पालघर जिले के महत्वपूर्ण मतदान केंद्रों पर चुनाव आयोग की विशेष नजर रहेगी। इन मतदान केंद्रों में होनेवाले घटनाक्रम पर वेबकास्टिंग से नजर रखी जाएगी। इसके अलावा इन केंद्रों में होनेवाले घटनाक्रम को रिकॉर्ड भी किया जाएगा। लाइव वेबकास्टिंग की मदद से जिलाधिकारी कार्यालयों के वरिष्ठ अधिकारी और पुलिस विभाग के आला अफसरों की मतदान केंद्रों पर सीधी नजर रहेगी।
मतदान के लिए दो छुट्टी
मुंबई और ठाणे जिले में कल लोकसभा चुनाव के लिए मतदान किया जानेवाला है। मतदान प्रतिशत में बढ़ोत्तरी हो और अधिक से अधिक नागरिक मतदान कर पाएं इसलिए मुंबई मनपा और ठाणे मनपा ने अपने अंतर्गत आनेवाली दुकानों के मालिकों को निर्देश दिया है कि वे अपनी दुकानों के कर्मचारियों को मतदान के दिन छुट्टी दें या फिर मतदान करने के लिए उन्हें कुछ समय दें।