" /> लोअर परेल वर्क शॉप में तैयार हुआ ‘इन्ट्यूबेशन बॉक्स’ : संक्रमित होने से बचेंगे डॉक्टर और नर्स

लोअर परेल वर्क शॉप में तैयार हुआ ‘इन्ट्यूबेशन बॉक्स’ : संक्रमित होने से बचेंगे डॉक्टर और नर्स

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के दौरान अस्पताल की नर्से और डॉक्टरों इस बीमारी की चपेट में आ रही हैं। इलाज के दौरान एतिहात बरतने के बावजूद डॉक्टर व अस्पताल के अन्य स्टाफ संक्रमित हो रहे हैं। डॉक्टर और नर्स मरीजो के इलाज के दौरान कोरोना जैसी बीमारी से संक्रमित न हो इसलिए पश्चिम रेलवे के लोअर परेल वर्क शॉप ने मेडिकल एसेसरी के तौर पर इन्ट्यूबेशन बॉक्स तैयार किया है, जो डॉक्टरों को संक्रमण से बचाएगा।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी रविंद्र भाकर ने बताया कि हमारी कुछ मेडिकल टीमों की तरफ से एक इस प्रकार की एक्सेसरी तैयार करने का अनुरोध प्राप्त हुआ था, जिससे चिकित्सा कर्मचारी को कोविड रोगियों का इलाज करते समय उनके सीधे संपर्क में आने से बचाया जा सके। अरुण कुमार सिंह- उप मुख्य यांत्रिक इंजीनियर (आर), लोअर परेल कारखाना के मार्गदर्शन में बेसिक ट्रेनिंग सेंटर, कैरिज मरम्मत कारखाना, लोअर परेल में इन्ट्यूबेशन बॉक्स तैयार किए गए हैं। लोअर परेल कारखाना, पश्चिम रेलवे, मुंबई के परिवर्तित कोविड अस्पताल के रूप में नामित जगजीवन राम अस्पताल के लिए इन्ट्यूबेशन बॉक्स का निर्माण करने और आपूर्ति करनेवाला, सभी क्षेत्रीय रेलों के बीच शायद पहला ऐसा कारखाना है। उन्होंने बताया कि अब तक इस प्रकार के कुल 5 एसेसरी बक्सों का निर्माण कर अस्पताल को सौंप दिया गया है। कोविड-19 के मरीज़ों के इलाज के लिए चिकित्सा टीम के सुझाव के अनुसार आवश्यक सभी सावधानियों को सुनिश्चित करते हुए बॉक्स बनाए जा रहे हैं। मरीज का सिर बक्से में डालने के लिए बक्से में एक वक्र साइड बनाया गया है। इसके अतिरिक्त, इलाज के लिए डॉक्टरों को अपने दोनों हाथ डालने के लिए बक्से में दो और छेद बनाए गए हैं। ये बक्से 3 एम एम पारदर्शी एक्रेलिक शीट से बनाए जाते हैं। प्रत्येक बॉक्स का आकार ऊॅंचाई में 30” 24” 20” है। इस बक्से का वजन मात्र 2 से 3 किलोग्राम तक है तथा नट बोल्ट एवं एडहेसिव के साथ फिक्स्ड 1 इंच के एल टाइप पीवीसी मोल्डिंग उपलब्ध कराते हुए परफेक्शन तक सील्ड है जो इसे एयरटाइट बनाता है। इन्ट्यूबेशन बॉक्स डॉक्टरों एवं नर्सों के लिए सहायक है,क्योंकि यह मरीजों से सीधा संपर्क होने से रोकता है। इस बॉक्स का निर्माण एक तरह से काफी उपयोगी है कि वेंटिलेटर कनेक्ट करने के लिए ट्यूब रखने अथवा गले का स्वेब आदि लेते समय प्रोसीजर के दौरान मुख्यतः मरीज की समुचित देखभाल की जा सकती है।