भड़कीले कपड़े पहनकर नहीं कर सकेंगे इमामबाड़ा का दीदार

यूपी में अराजकता को रोकने के लिए लखनऊ के डीएम ने अनोखा निर्देश जारी किया है। लखनऊ के भूलभुलैया (बड़ा इमामबाड़ा), छोटा इमामबाड़ा सहित हुसैनाबाद ट्रस्ट से जुड़े ऐतिहासिक महत्व के स्मारकों में शालीन कपड़ों में ही पर्यटकों को प्रवेश मिलेगा। अब ‘भड़कीले’ कपड़ों पर डीएम ने बैन लगाने का आदेश दिया है। लखनऊ के डीएम कौशल राज शर्मा के आदेश के अनुसार इमामबाड़ा परिसरों में ट्राइपॉड कैमरे, वीडियो कैमरे के साथ प्रोफेशनल तरीके से होनेवाली फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी के साथ फिल्म की शूटिंग को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है। आदेश को पालन कराने की जिम्मेदारी ट्रस्ट की ओर से तैनात सुरक्षाकर्मियों पर होगी।
डीएम कौशल राज शर्मा ने बताया कि ट्रस्ट की जमीन पर ३३६ अवैध मकान चिह्नित हुए हैं, जिनमें कब्जेदार वर्षों से बिना किराया दिए रह रहे हैं। डीएम ने एक माह में इनका सत्यापन कर रिपोर्ट देने को कहा है। इसके आधार पर नए सिरे से तय किराया राशि का ११-११ माह का अनुबंध होगा। अनुबंध न करनेवालों को नोटिस जारी कर बेदखल किया जाएगा। डीएम ने पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि शहर में ऐतिहासिक महत्व के ऐसे स्मारकों में कराए जानेवाले कामों और इन पर अनुमानित खर्च का प्रस्ताव एक साथ तैयार किया जाए। यह भी कहा कि स्मारकों में पर्यटकों की आवाजाही को देखते हुए दो शिफ्ट में सफाई कराई जाए। जरूरत पड़े तो इसके लिए आउटसोर्सिंग से भी कर्मचारी जुटाएं।