" /> जल्द शुरू होगा मेट्रो-3 का अस्पताल!

जल्द शुरू होगा मेट्रो-3 का अस्पताल!

1,060 बेड के नए अस्पताल में कोरोना मरीजों का होगा इलाज

कोरोना मरीजों के लिए उपनगर में बन रहे दो ओपन अस्पतालों में जल्द ही पीड़ितों का उपचार शुरू हो जाएगा। दहिसर और बोरीवली में बन रहे 1,060 बेड के अस्पताल निर्माण का कार्य अंतिम चरण के करीब पहुंच गया है। मुंबई मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एमएमआरसीएल ) के अनुसार दोनों अस्पतालों का काम पूरा कर लिया जाएगा। मुंबई में लगातार बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या को देखते हुए एमएमआरसीएल उपनगर में दो अस्पताल तैयार कर रहा है। इसमें करीब 800 बेड का एक अस्पताल दहिसर चेक नाका के करीब बन रहा है। 800 बेड में से 200 बेड में ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध होगी। करीब 250 बेड का दूसरा अस्पताल बोरीवली आरटीओ कार्यालय के करीब बन रहा है। इस अस्पताल में आईसीयू और डायलिसिस की भी सुविधा होगी। एमएमआरसीएल कोरोना के क्रिटिकल और नॉन क्रिटिकल मरीजों को ध्यान में रखते हुए दो अलग-अलग अस्पताल तैयार कर रही है।
मुंबई में कोरोना पीड़ितों की संख्या 77 हजार के करीब पहुंच गई है, वहीं करीब 4,500 मरीजों की मौत हो चुकी है। रोजाना करीब 1,000 कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं, इसमें बड़ी संख्या में मुंबई के उपनगर में रहनेवाले मरीज हैं। 1,060 बेड के इस अस्पताल के बन जाने के बाद बेड की कमी से जूझ रहे अस्पतालों को कुछ राहत मिलेगी।
कोरोना मरीजों के उपचार के लिए एमएमआरडीए पहले ही बीकेसी में दो ओपन अस्पताल तैयार कर चुका है। एक अस्पताल में कोरोना के नॉन क्रिटिकल मरीजों के लिए 1,008 बेड की व्यवस्था की गई है। क्रिटिकल मरीजों के लिए 1,000 बेड का दूसरा अस्पताल बनाया गया है। इस अस्पताल के 100 में आईसीयू की भी व्यवस्था की गई है।