" /> एलटीटी से जौनपुर के लिए चली ट्रेन : मध्य रेलवे से रवाना हुई 9 श्रमिक ट्रेनें

एलटीटी से जौनपुर के लिए चली ट्रेन : मध्य रेलवे से रवाना हुई 9 श्रमिक ट्रेनें

जल्द ही बढ़ेगी ट्रेनों की संख्या
लॉक डाउन के बीच कल मध्य रेलवे से जौनपुर के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाई।मध्य रेलवे के सीएस एमटी और एलटीटी से कुल 9 श्रमिक ट्रेन चलाई। मध्य रेलवे ने सीएसएमटी से बनारस, गोरखपुर, दानापुर, मुज़्ज़फ़रपुर के लिए और एलटीटी से सहरसा, मोतिहारी, बरौनी, जौनपुर और जगन्नाथपूरी के लिए ट्रेनें रवाना कीं।
नेताजी की महेरबानी मिल रही है ट्रेन

श्रमिक ट्रेन चलाने की पहली शर्त होती है 1200 यात्रियों की संख्या। मुंबई से मुलुक जाने वालों की संख्या की कमी नहीं है परंतु इन दिनों सारा काम यात्री के “लक” पर टिका हुआ है। प्रदेश जाने के लिए इच्छुक मज़दूर स्थानीय पुलिस स्टेशन में फ़ॉर्म जमा करवा रहे है। 15-20 लोगों का एक ग्रुप लीडर होता है और अनुमति मिलने के बाद पुलिस उन्हीं से संपर्क करती है। लेकिन अब ये मज़दूर स्थानीय पुलिस नहीं नेताओं की मेहरबानी पर आश्रित हैं। नेता या विधायक द्वारा 1200 लोगों की संख्या जुटाकर रेलवे और पुलिस से ट्रेन की डिमांड की जा रही है।

टिकट की राजनीति
मंगलवार को वसई से पाली के लिए एक ट्रेन रवाना की गई। इस ट्रेन में 1200 लोग रवाना हुए। ट्रेन वसई से चली लेकिन सभी यात्री मीरा-भाईंदर के थे। बताया जा रहा ही इस ट्रेन में यात्रियों और टिकट की व्यवस्था स्थानीय विधायक गीता जैन द्वारा की गई थी। इसी तरह एक स्थानीय नेता ने बताया कि ओड़िसा और उत्तरप्रदेश के लिए पिछले 15 दिनों से पर्याप्त लोगों की लिस्ट उनके पास है। सक्षम लोगों ने टिकट के पैसे भी दिए हैं लेकिन दूसरी पार्टी का होने के कारण स्थानीय प्रशासन गंतव्य राज्यों की मंज़ूरी नहीं मिलने का कारण बताकर बात को टाल रहे हैं। सोमवार को भी मुंबई से रवाना की गई एक ट्रेन में कांग्रेस के नेताओं का जयघोष किया गया था। दो दिन पहले ठाणे से उत्तरप्रदेश के लिए निकली ट्रेन में एकनाथ शिंदे का जयघोष हुआ था।