" /> उसने दिल तोड़ दिया!

उसने दिल तोड़ दिया!

युवराज सिंह और मोहम्मद कैफ का नाम जब भी आता है, तो 2002 का नेटवेस्ट सीरीज फाइनल की ऐतिहासिक जीत सामने आ जाती है, जिसमें भारत ने युवी और कैफ की बदौलत 326 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत दर्ज की थी। 13 जुलाई 2002 का दिन भारतीय क्रिकेट के लिए बेहद खास साबित हुआ था। 18 साल बाद एक बार फिर कैफ और युवी की वही पार्टनरशिप सुर्खियों में है। दरअसल, कैफ ने उस मैच को याद करते हुए कहा कि युवराज के आउट होने के बाद उन्हें लगा था कि भारत मैच हार गया। भारत ने हालांकि इस मैच में इंग्लैंड को दो विकेट से मात दी थी। युवराज (69 रन) और कैफ ने इस मैच में मुश्किल समय में छठे विकेट के लिए 121 रनों की साझेदारी की थी। कैफ ने युवराज के साथ इंस्टागराम लाइव चैट में कहा, ‘जब आप (युवराज) आउट हो गए थे, तब मुझे लगा कि मैच गया. मुझे नहीं लग रहा था कि हम मैच जीतेंगे। मैं सेट था और आप वहां थे तो मुझे लगा था कि अगर हम आखिर तक खेलेंगे तो मैच जीत जाएंगे लेकिन आप आउट हो गए और भारत ने उम्मीदें खो दीं। मेरा दिल टूट गया था।’ भारत ने आखिरकार मैच जीता और कप्तान गांगुली ने अपनी टी-शर्ट उतार ली थी और लॉडर्स की बालकनी से लहराई।