" /> २१० दिनों बाद चली ‘मोनो डार्लिंग!’

२१० दिनों बाद चली ‘मोनो डार्लिंग!’

‘नो मास्क नो एंट्री’
रखना होगा सैनेटाइजर

कोविड-१९ महामारी के कारण २२ मार्च से बंद मोनोरेल की सेवा एक बार फिर से शुरू हो गई है। २१० दिनों तक मोनो रेल की सर्विस बंद थी। कल रविवार को मोनो रेल शुरू होने के बाद मुंबई शहर ने जिंदगी सामान्य होने की दिशा में एक कदम और बढ़ा लिया है।
करीब ७ महीने बाद मोनो रेल शुरू होने पर मोनोरेल सर्विसेज के एक अधिकारी ने बताया, ‘हमने इंटरनल एसओपी बनाई है। ‘नो मास्क नो एंट्री’ का पालन किया जा रहा है।’ मोनोरेल की सेवा सुबह ७.०३ से ११.४० और शाम में ४.०३ से ९.२४ तक जारी रहेगी। फिलहाल, रोजाना सुबह के पीक ऑवर में मोनोरेल की १४ सेवाएं और शाम के पीक ऑवर में १६ सेवाएं शुरू की गई हैं। यात्रियों को सलाह दी गई है कि वे कम-से-कम सामान लेकर सफर करें, ताकि उन्हें यात्रा के दौरान कोई परेशानी ना हो। इसके साथ ही वे अपने साथ पॉकेट सैनिटाइजर भी लेकर आएं। मोनोरेल स्टेशंस पर एंट्री पॉइंट भी लिमिटेड हैं। इस अवसर पर मोनोरेल के एक अधिकारी ने कहा कि हमें उम्मीद है कि यात्री सारे नियमों का पालन करेंगे, ताकि इस मुश्किल घड़ी में मोनो रेल की सर्विस को सुचारू रूप से चलाने में कोई व्यवधान ना आए।