मां ने रोका मौत का रास्ता! बेटी के साथ सांप को लेकर पहुंची अस्पताल

बेटी के साथ हुई थी सर्प दंश की शिकार
अस्पताल पहुंचकर बचाई जान 
बच्चे को बचाने के लिए एक मां मौत से भी टकरा सकती है। कुछ ऐसा ही नजारा धारावी में देखने को मिला, जहां घर में अचानक आए सांप ने १८ वर्षीय युवती और उसकी मां  को काट लिया लेकिन युवती की मां ने हिम्मत नहीं हारी। बार-बार डसने वाले सांप को हाथ में पकड़कर किसी से मदद लिए बिना सही समय पर उसने बेटी को अस्पताल पहुंचाया। इससे दोनों की जान बच गई।
बता दें कि धारावी के राजीव गांधी नगर झोपड़पट्टी में रहनेवाली सुल्ताना खान के घर में रविवार को दोपहर के समय अचानक एक डेढ़ फुट लंबा सांप घुस आया। उस समय सुल्ताना और उनकी १८ वर्षीय बेटी तेहसीन सो रही थी। सांप ने तेहसीन को काट लिया। सांप के काटने से तेहसीन घबरा गई और वह चीखने लगी। तेहसीन का शोर सुनकर सुल्ताना की नींद टूट गई। घर में सांप देखकर पहले तो वह घबरा गई लेकिन सांप, तेहसीन को डस न ले यह सोचकर वह सांप पर झपट पड़ी। उसने तेहसीन को सांप दूर हटाने का प्रयास किया। इसी दौरान सांप ने सुल्ताना को भी डस लिया था। बावजूद इसके सुल्ताना ने सांप को एक हाथ में दबोच लिया। इस दौरान सर्प दंश से घबराई तेहसीन की हालत बिगड़ने लगी थी  लेकिन सुल्ताना ने उसे ढाढ़स बंधाया और टैक्सी में एक हाथ में सांप को पकड़े हुए तेहसीन के साथ वह सायन अस्पताल पहुंच गई। अस्पताल में पशु चिकित्सा कक्ष के डॉकटरों ने सांप को पकड़ कर जांच की तो वह जहरीला निकला। वहीं अस्पताल में सही समय पर इलाज मिलने तथा सुल्ताना की िहम्मत और सूझबूझ से मां-बेटी की जान बच गई।