" /> यूपी के सीएम योगी को दी बम से उड़ाने की धमकी : मुंबई एटीएस ने सिरफिरे को दबोचा

यूपी के सीएम योगी को दी बम से उड़ाने की धमकी : मुंबई एटीएस ने सिरफिरे को दबोचा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी देनेवाले शख्स को मुंबई एटीएस की कालाचौकी यूनिट ने गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपी ने योगी को बम से उड़ाने की धमकी देने का आरोप स्वीकार कर लिया है। इसके बाद कालाचौकी पुलिस ने आरोपी को उत्तर प्रदेश एसटीएफ के सुपुर्द कर दिया है।

बता दें कि बृहस्पतिवार की रात साढे 12 बजे यूपी पुलिस के डायल-112 के सोशल मीडिया डेस्क को व्हॉट्सएप्प पर एक मैसेज आया था। यह मैसेज मोबाइल क्रमांक 8828453350 से भेजा गया था। मैसेज में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। मेसेज में लिखा था, ‘सीएम योगी को मैं बम से मारने वाला हूं। (एक खास समुदाय का नाम लिखा) की जान का दुश्मन है वो।’ लखनऊ के गोमती नगर पुलिस थाने में दर्ज इस मामले की जांच यूपी एसटीएफ कर रही थी। जिस मोबाइल नंबर से मैसेज आया था उस मोबाइल नंबर की जांच करने पर यूपी एसटीएफ को फोन की लोकेशन मुंबई में मिली। यूपी एसटीएप से मिली सूचना को गंभीरता से लेते हुए मुंबई एटीएस हरकत में आई। मामले की जांच कर रही मुंबई एटीएस की कालाचौकी यूनिट ने तत्परता दिखाते हुए 25 वर्षीय आरोपी को चूनाभट्टी इलाके से तुरंत गिरफ्तार कर लिया। आरोपी का नाम कामरान अमीन खान है। बताया जा रहा है कि आरोपी पहले दक्षिण मुंबई के नल बाजार पोस्ट आफिस के पास स्थित मांडवी इलाके में रहता था। लेकिन वहां आरोपी जिस इमारत में रहता था उसकी मरम्मत चल रही थी इसलिए वह अपने दो भाइयों एवं मां के साथ चुना भट्टी पुलिस स्टेशन के पास स्वदेशी मिल कंपाउंड स्थित न्यू महाडा कॉलोनी में रह रहा था। वह पहले दक्षिण मुंबई स्थित जवेरी बाजार में सुरक्षा रक्षक का काम करता था लेकिन वर्ष 2017 में टीबी की बीमारी के कारण उसकी नौकरी छूट गई थी, जिसके बाद वह नशेड़ी बन गया था। दो माह पहले उसके पिता की भी मौत हो गई थी। आरोपी का यूपी से कोई संबंध नहीं है। बावजूद उसने यूपी के सीएम को बम से उड़ाने की धमकी क्यों दी? क्या उसका किसा आतंकी संगठन से कोई संबंध है? आदि की जांच तथा आगे की कार्रवाई के लिए लिए मुंबई एटीएस ने आरोपी को उत्तर प्रदेश एसटीएफ के हवाले कर दिया गया है। आरोपी को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा, जहां कोर्ट से ट्रांजिट रिमांड हासिल करने के बाद यूपी एसटीएफ आरोपी को आगे की कार्रवाई के लिए लखनऊ ले जाएगी।

पहले भी मिली थी धमकी

गौरतलब हो कि यह कोई पहली बार नहीं है जब योगी को इस तरह से जान से मारने की धमकी मिली हो। इससे पहले बिहार पुलिस के एक जवान को भी पुलिस ने अरेस्ट किया था। पुलिस इस जवान को बिहार से गिरफ्तार कर लाई थी। बिहार पुलिस का यह जवान उत्तर प्रदेश का ही रहने वाला था। आरोपी का नाम तनवीर खान था।