दिल्ली का कैटरर, सूरत में मोबाइल चोरी : मुंबई में मोबाइल बेचते धराया

दिल्ली में कैटरिंग का काम करनेवाले कुछ युवक काम के बहाने बंद दुकानों-घरों की रेकी करते थे। बाद में मौका देखकर चोरी करते थे। इस गिरोह ने सूरत में मोबाइल की एक बंद दुकान से 20 मोबाइल फोन और नकदी चुराए थे तथा मुंबई में वे मोबाइल बेचने की फिराक में थे लेकिन मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की यूनिट-११ ने उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया। 

बता दें कि सूरत में मोबाइल की दुकान में चोरी करनेवाले चोरों के मुंबई में आने की सूचना यूनिट-११ के अधिकारियों को मिली थी। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक चिमाजी आढाव के मार्गदर्शन में एपीआई शरद झीने ने मामले की छानबीन की। बाद में पीआई आनंद रावराणे के नेतृत्व में रईस शेख, एपीआई झीने व नितीन उतेकर की टीम ने कांदिवली (पश्चिम) में रेलवे स्टेशन के पास जाल बिछाकर शिवा उर्फ संतोष रामदास गौतम को हिरासत में लिया, उसके पास से ५ मोबाइल फोन बरामद हुए। पूछताछ में शिवा ने बताया कि वह दिल्ली का रहनेवाला है तथा कैटरिंग में खाना परोसने का काम करता है। इसी बीच वे मौका देखकर चोरी भी करते हैं। उसने अपने साथियों के साथ सूरत की दुकान से २० मोबाइल फोन चुराए थे। यूनिट-११ की टीम ने शिवा को सूरत की लिंबायत पुलिस थाने के अधिकारियों को सौंप दिया है।