" /> मुंबई टू वाराणसी @ २४ घंटे, होगी समय की बचत होगी समय की बचत

मुंबई टू वाराणसी @ २४ घंटे, होगी समय की बचत होगी समय की बचत

मुंबई से वाराणसी के बीच यात्रियों को जो ट्रेन सबसे पहले गंतव्य स्थान पर पहुंचाती हैं, वह है महानगरी एक्सप्रेस। आनेवाले दिनों में मुंबई से वाराणसी का यह सफर महज २४ घंटे में तय कर पाना संभव होगा। हालांकि ये चमत्कार मेल-एक्सप्रेस नहीं बल्कि प्राइवेट ट्रेन की बदौलत ही संभव होगा। जानकारी के मुताबिक रेलवे में पीपीपी मॉडल पर चलनेवाली १५१ प्राइवेट आधुनिक ट्रेनों के संचालन का रास्ता साफ हो गया है। मार्च २०२३ में प्रस्तावित ट्रेनों के संचालन को लेकर दिन और शेड्यूल दोनों जारी कर दिया गया है। शेड्यूल के मुताबिक निजी ट्रेन से अन्य ट्रेनों की अपेक्षा ४ से ५ घंटे पहले यात्रियों को मंजिल तक पहुंचने का दावा किया जा रहा है। वर्तमान में वाराणसी-मुंबई का सफर तय करने में महानगरी से २७ घंटे, कामायनी से ३१ घंटे और पवन एक्सप्रेस से २८ घंटे लगते हैं। सूरत-वाराणसी के बीच ताप्ती गंगा एक्सप्रेस से २५ घंटे लगते हैं तो वहीं निजी ट्रेन से यह दूरी २३ घंटे में पूरी होगी।
मुंबई से रोजाना होगी प्राइवेट ट्रेन
वाराणसी से चलनेवाली निजी ट्रेनों का दिन भी निर्धारित कर दिया गया है। इसमें वाराणसी-मुंबई, वाराणसी-दिल्ली, आनंद विहार-दरभंगा, वाराणसी-बठिंडा, मंडुवाडीह-अंबाला की ट्रेन रोजाना और वाराणसी-हावड़ा के बीच चलने वाली ट्रेन सप्ताह में तीन दिन बुध, शुक्र, शनिवार, वाराणसी से तिरुपति के बीच चलने वाली ट्रेन सप्ताह में दो दिन बुधवार और शनिवार को चलेगी, वहीं वाराणसी-सूरत की ट्रेन मंगलवार व बुधवार को है।
क्लस्टर वाइज होगा संचालन
निजी ट्रेनों को क्लस्टर वाइज बांटा गया है। क्लस्टर-१ में वाराणसी-मुंबई, क्लस्टर-२ में वाराणसी-सूरत, क्लस्टर-३ में वाराणसी-दिल्ली, आनंद विहार वाया दरभंगा, क्लस्टर-५ में वाराणसी-बठिंडा, क्लस्टर-६ में वाराणसी-हावड़ा, क्लस्टर-८ में मंडुवाडीह-अंबाला और क्लस्टर-९ में वाराणसी वाया सिकंदराबाद-तिरुपति के बीच ट्रेन चलेगी।