" /> गांव-गांव में ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’, ठाणे जिला परिषद क्षेत्र में अभियान को सफलतापूर्वक लागू करने के निर्देश

गांव-गांव में ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’, ठाणे जिला परिषद क्षेत्र में अभियान को सफलतापूर्वक लागू करने के निर्देश

‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ अभियान ठाणे जिला परिषद के अधिकार क्षेत्र में लागू कर दिया गया है। ठाणे जिले के गांव-गांव तक इस अभियान को पहुंचाने के लिए मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. रूपाली सतपुते ने निर्देश दिए हैं। उन्होंने वीडियो कॉन्प्रâेंस के माध्यम से जिला परिषद के विभिन्न विभाग प्रमुखों, अभियान के संपर्क अधिकारियों, तालुका समूह विकास अधिकारियों और तालुका स्वास्थ्य अधिकारियों की समीक्षा बैठक भी ली।
बता दें कि कोविड १९ वायरस को नियंत्रित करने के लिए जिले के मुरबाड़, अंबरनाथ, कल्याण, भिवंडी, शहापुर तालुकाओं में ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ अभियान चलाया जा रहा है। अभियान का पहला चरण १५ सितंबर से १० अक्टूबर तक चलनेवाला है। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य संदिग्ध कोविड मरीजों की जांच और उपचार करना, उच्च जोखिम वाले व्यक्तियों की पहचान करना और उनका इलाज करना है। कोविद १९ से बचने के लिए उचित आरोग्य शिक्षा देना, घरभेंट देकर मारीजों की सुरक्षा, कोविड की जांच और स्वास्थ्य शिक्षा आदि के माध्यम से मरीजों की रक्षा करना है। अभियान ग्रामीण क्षेत्रों में ३३ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के स्तर पर लागू किया जा चुका है। अभियान में स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से नागरिकों का डोर-टू-डोर सर्वेक्षण शामिल है। इसके लिए टीमें नियुक्त कर दी गई हैं। टीम में स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, स्थानीय स्वयंसेवक शामिल हैं।
नागरिक स्वेच्छा से लें भाग
इस अभियान की सफलता के लिए नागरिकों की भागीदारी महत्वपूर्ण है। श्रीमती सतपुते ने नागरिकों को स्वेच्छा से इस अभियान में भाग लेने का सुझाव दिया है।