" /> ऑक्सीजन मशीनों से लैश होगी मनपा का कोरोना अस्पताल

ऑक्सीजन मशीनों से लैश होगी मनपा का कोरोना अस्पताल

मनपा आयुक्त ने यूवेल कंपनी से खरीदी 20 मशीन
कोरोना मरीजों के उपचार में मिलेगी सुविधा

भिवंडी मनपा आयुक्त डॉ. पंकज आसिया ने कोरोना मरीजों की उपचार सुविधा हेतु यूवेल कंपनी से 20 इलेक्ट्रिक ऑक्सीजन मशीनों को मंगाया है।इलेक्ट्रिक ऑक्सीजन मशीनें टाटा आमंत्रा, रईस हाईस्कूल ओसवाल हाल एवं चाचा नेहरू स्कूल में लगाई जाएंगी। इलेक्ट्रिक ऑक्सीजन मशीनों के आ जाने से भिवंडी में कोरोना मरीजों के उपचार में बड़ी मदद मिल सकेगी।
गौरतलब हो कि नवनियुक्त मनपा आयुक्त डॉ. पंकज आसिया ने कोरोना संक्रमण प्रसार को रोकने एवं मरीजों के उपचार हेतु जरूरी उपाय योजनाओं पर कार्य करना शुरू कर दिया है, जिसका परिणाम दिखाई पड़ने लगा है। मनपा आयुक्त डॉ. आसिया ने कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु रईस हाईस्कूल, चाचा नेहरू हाईस्कूल, खुदाबख्श हाल, ओसवाल हाल आदि में करीब 2 हजार बेड के कोविड सेंटर निर्माण की तैयारी अंतिम चरण में है।कई सेंटर शुरू हो गया है जबकि एक सप्ताह के भीतर ही मरीजों के उपचार हेतु शुरू हो जाएगा। रईस हाईस्कूल में 400 बेड का सेंटर शुरू हो गया है, जहां मरीजों का इलाज किया जा रहा है। यूवेल कंपनी से मंगाई गई इलेक्ट्रिक ऑक्सीजन मशीन विद्युत चार्जर से चार्ज होकर पाइपों द्वारा मरीजों के बेड तक सप्लाई कर ऑक्सीजन प्रदान की जाएगी, जिसके लिए जल्दी-जल्दी ऑक्सीजन सिलिंडर की जरूरत नहीं पड़ेगी। इलेक्ट्रिक ऑक्सीजन मशीन यूनिट द्वारा आसानी से वातावरण से भी प्राकृतिक गैस खींचकर सिलिंडर में भरी जा सकती है। स्वास्थ्य अधिकारी मिलिंद भोईर ने इलेक्ट्रिक ऑक्सीजन मशीन संचालन प्रक्रिया का डेमो दिखाकर समस्त स्वास्थ्यकर्मियों को पारंगत कर दिया है। कोविड सेंटर में इलेक्ट्रिक ऑक्सीजन मशीन की उपलब्धता से कोरोना मरीजों के उपचार में बेहद आसानी हो गई है।