" /> पंचांग

पंचांग

अप्रैल- २०२१ चैत्र मास कृष्णपक्ष शक संवत – १९४२ विक्रम संवत- २०७७
सोमवार ५ अप्रैल- चैत्र मास कृष्णपक्ष की अष्टमी तिथि प्रात: ७.०४ बजे तक तदुपरांत नवमी तिथि प्रारंभ, शीतलाअष्टमी व्रत, श्री ऋषभ नाथ जी जयंती (जैन)।
मंगलवार ६ अप्रैल- चैत्र मास कृष्णपक्ष की दशमी तिथि रात्रि ४.३९ बजे तक, भद्रा शाम ५.०९ बजे से रात्रि शेष ४.३९ बजे तक।
बुधवार ७ अप्रैल- चैत्र मास कृष्णपक्ष की एकादशी तिथि रात्रि ४.०७ बजे तक, पापमोचनी एकादशी व्रत।
बृहस्पतिवार ८ अप्रैल- चैत्र मास कृष्णपक्ष की द्वादशी तिथि रात्रि ४.०४ बजे तक, वारुणी पर्व।
शुक्रवार ९ अप्रैल- चैत्र मास कृष्णपक्ष की त्रयोदशी तिथि रात्रि ४.३४ बजे तक, प्रदोष व्रत, मधु कृष्ण त्रयोदशी, भद्रा रात्रि ४.३४ बजे से प्रारंभ।
शनिवार १० अप्रैल- चैत्र मास कृष्णपक्ष की चतुर्दशी तिथि रात्रि ५.३२ बजे तक, मास शिवरात्रि व्रत, भद्रा शाम ५.०३ बजे तक।
रविवार ११ अप्रैल- चैत्र मास कृष्णपक्ष की अमावस्या तिथि समस्त।

(लेखक प्रसिद्ध धर्माचार्य और श्री काशी विश्वनाथ मंदिर, वाराणसी के पूर्व न्यासी हैं।)