मतवाले हो गए रखवाले! कार स्क्रीन पर काली फिल्म, सरकारी पट्टी लगाकर घूम रहे पुलिसवाले

नई मुंबई में गाड़ियों पर काली फिल्म और सरकारी पट्टी लगाकर घूमनेवाली गाड़ियों की संख्या बढ़ गई है। ये गाड़ियां शहर के पुलिसवालों की हैं, जो अपनी धौंस जमाने के लिए लोगों के रखवाले से मतवाले हो गए हैं।
मुंबई हाइकोर्ट के आदेशों के बाद गाड़ियों पर काली फिल्म और सरकारी पट्टियों का उपयोग प्रतिबंधित कर दिया गया है। यह निर्णय सुरक्षा के लिहाज से लिया गया है। ऐसा निर्णय मात्र मुंबई तक ही सीमित न होकर दिल्ली में भी इसे लागू कर दिया गया है। वहां आपराधिक वारदातों के बाद गाड़ियों पर काली फिल्म लगवाने व पर्दे लगाने पर प्रशासन ने प्रतिबंध लगा दिया है। लेकिन नई मुंबई में पुलिस के अधिकारियों की गाड़ियां हीं इन नियमों की धड़ल्ले से उल्लंघन करती नजर आ रही हैं। हालांकि इस संदर्भ में सहायक पुलिस आयुक्त अरुण पाटील (यातायात विभाग) ने नियमों का उल्लंघन करनेवाली गाड़ियों पर कार्रवाई का आदेश भी दिया है लेकिन यातायात विभाग भी इस पर मौन साधे नियमों का उल्लंघन होता देख रहा है। इस विषय में स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस अधिकारी पहले अपनी निजी गाड़ियों से काली फिल्म और सरकारी पट्टियां हटवाएं और लोगों के सामने एक अदाहरण पेश करें तभी लोगों का विश्वास जम पाएगा। शहर के एक निवासी अमोल कांबले ने कहा कि यह नियम काफी पहले से लागू है लेकिन इस पर अमल नहीं किया जा रहा है। जबकि समाजसेवक गिरिराज दरेकर का कहना है कि कानून अच्छे के लिए बनाया जाता है, इसका क’ोरता से पालन होना चाहिए।