" /> सियासी दांव..अमेठी में दंगल !

सियासी दांव..अमेठी में दंगल !

• तीन दिवसीय राष्ट्रीय दंगल प्रतियोगिता में जुटे देशभर के ७५० पहलवान
• उद्घाटन समारोह में सियासी सूरमाओं के साथ-साथ दंगल गर्ल बबिता फोगाट बजरंग पुनिया की रही मौजूदगी

यूपी में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। भाजपा के सामने अपने समस्त दुर्ग बचाने की चुनौती है। ऐसे में वो ऐसे हरेक फंडे का इस्तेमाल करना चाह रही हैं, जिससे जनता का वोट झटक सके। फिलहाल देश की राजनीति में वीआईपी बन चुकी ‘अमेठी’ टारगेट पर है। राहुल गांधी को शिकस्त देकर गांधी परिवार से यह संसदीय सीट छीन लेनेवाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने फिलहाल यहां शुक्रवार से तीन दिनी राष्ट्रीय दंगल प्रतियोगिता का श्रीगणेश कर नया दांव खेल दिया है। खेल-खेल में चुनावी लक्ष्य पाने की कोशिश के तौर पर इसे देखा जा रहा है।

अमेठी सांसद स्मृति ईरानी की मौजूदगी में भारी बरसात के मध्य दंगल के उद्घाटन अवसर पर राष्ट्रीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, उपेंद्र तिवारी जैसे शीर्षस्थ दिग्गज तो थे ही, ‘दंगल गर्ल’ कही जानेवाली बबिता फोगाट व बजरंग पुनिया जैसों को उपस्थिति भी कस्बे जैसे माहौलवाली अमेठी में चर्चा का विषय बनी। हालांकि आयोजन को लेकर उद्घाटन भाषण में स्मृति ने बड़ी ही साफगोई से सियासी शैली से हटकर अपनी मंशा यूं जाहिर की। ‘सुदूरवर्ती ग्रामीणांचल में खेल प्रतिभाओं को प्रेरित कर उन्हें संवारने और आगे बढाने के लिए ये आयोजन किया गया है। ऐसा नहीं कि गांवों में प्रतिभाएं नहीं हैं, उन्हें बस तराशने की जरूरत है। अपने ही आंगन में नामी-गिरामी पहलवानों को देखकर अमेठी पुलकित है। निश्चय ही इससे स्थानीय खिलाड़ियों को प्रेरणा मिलेगी।’