" /> राजस्थान में शुरू हुई पीपीई पॉलिटिक्स, किट पहनकर पहुंची ईडी की टीम, मुख्यमंत्री के भाई के घर डाला छापा

राजस्थान में शुरू हुई पीपीई पॉलिटिक्स, किट पहनकर पहुंची ईडी की टीम, मुख्यमंत्री के भाई के घर डाला छापा

कुछ दिन पहले पीपीई किट में कुछ लोगों ने राजनीति घुसेड़ दी थी अब राजनीति में पीपीई किट घुस गई है। इसका ताजा उदाहरण राजस्थान का सियासी संग्राम है, जहां सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बगावत कर रखी है। पायलट को केंद्र सरकार का पूरा आशीर्वाद प्राप्त है। इसका अंदाज इसी बात से लगाया जा सकता है कि जब से पायलट ने विरोध का सुर आलापा है, केंद्रीय एंजेंसियां भी एक्टिव हो गई हैं और मुख्यमंत्री गहलोत के करीबियों पर धड़ाधड़ छापेमारी कर रही हैं। इनमें सीबीआई, इनकम टैक्स, ईडी व कस्टम्स आदि सभी शामिल हैं। हद तो तब हो गई जब ईडी के अधिकारी कल पीपीई किट पहनकर गहलोत के भाई के यहां छापा मारने पहुंचे।
बता दें कि राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच सीएम अशोक गहलोत के बड़े भाई अग्रसेन गहलोत के घर और फॉर्म हाउस पर ईडी ने कल छापा मारा है। ईडी की टीम पीपीई किट पहनकर पहुंची थी। खबर लिखे जाने तक ईडी की तलाशी जारी थी। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को परिवार के खिलाफ ईडी की कार्रवाई की आशंका जताई थी। केंद्रीय एजेंसियां राज्य में ९ दिन में गहलोत के करीबियों और रिश्तेदारों पर अब तक ६ बड़ी कार्रवाई कर चुकी हैं। १३ जुलाई को इनकम टैक्स ने कांग्रेस नेता राजीव अरोड़ा और धर्मेंद्र राठौड़ के ठिकानों पर छापेमारी की थी।

इसके बाद २० जुलाई को सीबीआई ने कांग्रेस विधायक कृष्णा पुनिया से पूछताछ की। २१ जुलाई को सीबीआई ने मुख्यमंत्री के ओएसडी देवाराम सैनी को पूछताछ के लिए बुलाया। इसी दिन फिर से कृष्णा पुनिया से पूछताछ की गई। अब मुख्यमंत्री के बड़े भाई अग्रसेन गहलोत के ठिकानों पर ईडी ने छापेमारी की। उधर कस्टम विभाग ने अग्रसेन की कंपनी अनुपम कृषि पर ७ करोड़ रुपए की पेनाल्टी लगाई है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इन छापों पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि डराने, धमकाने के लिए ईडी के छापे मारे जा रहे हैं। उन्होंने जनमत को चुनौती दी है। उन्होंने २० और २१ जुलाई को इनकम टैक्स और ईडी के साथ हमारी विधायक कृष्णा पूनिया के पास सीबीआई भेज दी। दिल्ली में बैठे हुक्मरानों का ये दबाव डालने का हथकंडा था। सुरजेवाला ने कहा कि २१ जुलाई को मुख्यमंत्री के ओएसडी को सीबीआई ने बुलाया था। अब अग्रसेन गहलोत निशाना बनाए गए हैं। जो कि ना राजनीति में हैं ना उनका इससे कोई सरोकार है। उनके घर ईडी के छापे डाले गए हैं। मोदी ने देश में ‘रेड राज’ पैदा किया हुआ है। इससे राजस्थान डरनेवाला नहीं है।