" /> अयोध्या में गुणगान, कर्नाटक में अपमान!

अयोध्या में गुणगान, कर्नाटक में अपमान!

अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक ओर वहां मंच से छत्रपति शिवाजी महाराज का गुणगान करते हैं, वहीं दूसरी ओर कर्नाटक में भाजपा शासित येदियुरप्पा की सरकार छत्रपति शिवाजी महाराज का अपमान कर रही है। महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा परिसर के बेलगाव जिले में मनगुत्ती स्थित शिवराय की भव्य प्रतिमा कल कर्नाटक की भाजपा सरकार ने पुलिस बंदोबस्त में हटा दी। इससे साफ है कि बेलगाव में सरकारी निर्देश पर यह कुकृत्य किया गया है। इसको लेकर कल मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में कर्नाटक की भाजपा सरकार के खिलाफ आक्रोश फूट पड़ा। जगह-जगह येदियुरप्पा सरकार के पुतले को चप्पलों की माला पहनाकर उसका दहन किया गया। शिवराय के अपमान पर शिवसैनिकों ने जगह-जगह प्रदर्शन किया और कर्नाटक सरकार के खिलाफ नारे लगाए। शिवसेना छत्रपति शिवाजी महाराज का अपमान कभी सहन नहीं करेगी, ऐसी घोषणा कल प्रदर्शनकारी शिवसैनिक पूरे प्रदेश में करते नजर आए। शिवसेना के विधान परिषद सदस्य व विभागप्रमुख विलास पोतनीस ने कल बोरीवली में विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा कि भाजपा हमेशा से दोगली राजनीति करती रही है। न सिर्फ मुंबई व ठाणे बल्कि नागपुर, हिंगोली, कोल्हापुर, संभाजीनगर में भी शिवसैनिकों ने कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार के खिलाफ जोरदार आंदोलन किया। गत ५ अगस्त को एक साजिश के तहत बेलगाव जिले में मनगुत्ती में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को हटा दिया गया था। इस घटना के बाद शिवसैनिकों में काफी आक्रोश है।

कल पूरी मुंबई व आसपास के क्षेत्रों में कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार के खिलाफ शिवसैनिकों का गुस्सा फूट पड़ा। बेलगांव के मनगुत्ती में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा हटाए जाने के विरोध में यहां शिवसैनिक सड़कों पर उतर पड़े। जगह-जगह कर्नाटक सरकार मुर्दाबाद के नारों के बीच येदियुरप्पा के पुतले फूंके गए। पेश है अलग-अलग हिस्सों में हुए आंदोलन की रिपोर्ट –

छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा के साथ आंदोलन
विनोद मिश्र / भाइंदर
कर्नाटक के बेलगांव स्थित मंगुट्टी गांव में वर्षों से स्थापित छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को रातोंरात हटा दिए जाने से संतप्त शिवसैनिकों ने कर्नाटक की भाजपा सरकार के खिलाफ आंदोलन किया। मीरा-भाइंदर शहर के प्रवेश द्वार काशीमीरा नाका पर स्थित शिवाजी महाराज के अश्वारूढ़ प्रतिमा के पास शिवसैनिकों ने छत्रपति शिवाजी महाराज की जय-जयकार की। कई शिवसैनिक महाराष्ट्र के आराध्य देव छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा भी अपने सिर पर उठाकर लाए और उनके प्रति अपने दिलों के स्नेह, प्रेम और आदर को प्रदर्शित किया। आक्रोशित शिवसैनिकों ने कर्नाटक की भाजपा सरकार हाय-हाय और मुर्दाबाद के नारे लगाए। कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा की फोटो फाड़कर और प्रतीकात्मक पुतला जला कर सैकड़ों की संख्या में उपस्थित शिवसैनिकों ने अपना आक्रोश व्यक्त किया। शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक के मार्गदर्शन में इस निषेध आंदोलन में मीरा-भाइंदर शिवसेना जिलाप्रमुख प्रभाकर म्हात्रे, शहरप्रमुख प्रशांत पालांडे, धनेश पाटील, शैलेश पांडे, सुरेश दुबे, युवासेना के आराध्य सावंत, विभागप्रमुख मुस्तफा वनारा, प्रकाश माने, महेश शिंदे, शाखाप्रमुख संतोष म्हात्रे, शिवसेना नगरसेवक राजू भोईर, विक्रम प्रताप सिंह, नगरसेविका नीलम ढवण, स्नेहा पांडे, महिला जिला संगठक स्नेहल कलसरिया, महिला शहर संगठक श्रेया सालवी व सैकड़ों की संख्या में शिवसैनिक मौजूद थे।

कालीपट्टी बांधकर येदियुरप्पा का पुतला फूंका
सुजीत श्रीवास्तव / कल्याण
कर्नाटक में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा हटाए जाने से नाराज शिवसैनिकों ने कल्याण और डोंबिवली में भाजपा सरकार के खिलाफ न सिर्फ मोर्चा खोला बल्कि वहां के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के पुतले भी दहन किए। कल्याण के शिवाजी चौक पर शिवसेना नगरसेवक सचिन बासरे, राजेंद्र देवलेकर, सुनील वायले, महेश गायकवाड, विद्या भोईर, रवि कपोते और प्रकाश पेणकर आदि शिवसैनिकों ने कर्नाटक की भाजपा सरकार की निंदा करते हुए निषेध व्यक्त किया। उसी तरह डोंबिवली में शिवसेना शहरप्रमुख राजेश मोरे की अगुवाई में शिवसैनिकों ने मोर्चा निकालकर पुतला जलाया। शिवसेना कल्याण शहरप्रमुख सर्वेश उपाध्याय ने कहा कि कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार ने शिवाजी महाराज की प्रतिमा हटाकर शिवसैनिक ही नहीं बल्कि पूरे महाराष्ट्र का अपमान किया है। हम ये अपमान कभी बर्दाश्त नहीं कर सकते। वहीं शिवसेना के पूर्व महापौर रमेश जाधव ने कहा कि शिवाजी महाराज महापुरुष थे और उनका अपमान हम कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। शिवसेना के सुनील वायले ने कर्नाटक सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि १५ दिनों के भीतर जिस जगह पर प्रतिमा थी, उसी स्थान पर नहीं लगायी गई तो शिवसेना अपने स्टाइल में प्रतिमा बैठाएगी।

शिवसैनिकों का विरोध प्रदर्शन
सामना संवाददाता / मुंबई
मामले पर चुप्पी साध बैठी भाजपा सरकार के खिलाफ कल मुंबई के कई इलाकों में शिवसैनिकों ने नारे लगाए और धरना-प्रदर्शन कर विरोध जताया। सायन -कोलीवाड़ा सहित कई स्थानों पर शिवसैनिकों ने धरना-प्रदर्शन किया और कर्नाटक सरकार के खिलाफ हाय-हाय के नारे लगाए। सायन-कोलीवाड़ा में प्रदर्शन के दौरान विभाग प्रमुख मंगेश सातमकर, नगरसेवक रामदास कांबले, गणेश शिंदे के साथ सैकड़ों शिवसैनिकों ने इस धरना प्रदर्शन में भाग लिया।

गूंजा ‘जय भवानी, जय शिवाजी’
सामना संवाददाता / मुंबई
शिवसेना ईशान्य मुंबई विभाग क्रमांक ८ के सौजन्य से हिंदुस्थान के आराध्यदैवत छत्रपति शिवराय का अपमान करनेवाली कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार का जोरादार निषेध किया गया। कल घाटकोपर में विभागप्रमुख राजेंद्र राऊत के नेतृत्व में शिवसैनिक व शिवप्रेमियों ने तीव्र आंदोलन कर कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के पुतले का दहन किया। शिवसेना के इस निषेध आंदोलन कार्यक्रम के समय शिवसैनिकों के ‘जय भवानी, जय शिवाजी’ के नारे से पूरा परिसर गूंज उठा। उपविभागप्रमुख चंद्रपाल चंदेलिया, सुनील मोरे, विलास पवार, विजय पडवल, संजय बाबू दरेकर, प्रभाग समिति अध्यक्ष व नगरसेवक परमेश्वर कदम, उपविभाग संगठिका प्रीति ताई जाधव, विधानसभा क्षेत्र संगठक प्रदीप मांडवकर, जनार्दन पार्टे, प्रकाश भेकरे सहित सभी उपशाखा प्रमुख, गटप्रमुख, युवासेना पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में शिवसैनिक उपस्थि
त थे।

येदियुरप्पा मुर्दाबाद की गूंज
सामना संवाददाता / मुंबई
कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार द्वारा छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा हटाने से देशभर के शिवसैनिक नाराज हो गए हैं। कल शिवसेना दक्षिण मुंबई द्वारा येदियुरप्पा सरकार तथा भाजपा का जमकर विरोध किया गया। शिवसैनिकों ने येदियुरप्पा मुर्दाबाद के नारे लगाए तथा उनका पुतला भी फूंका। इस अवसर पर शिवसेना सांसद अरविंद सावंत, उपनेता रवीन्द्र मिर्लेकर, उपनेता मीनाताई कांबली, विभाग प्रमुख पांडुरंग सकपाल, महिला विभाग संगठक जयश्री वल्लीकर, युवासेना सचिव दुर्गा शिंदे सहित शिवसेना, युवासेना के सभी पदाधिकारी उपस्थित थे।

सैकड़ों शिवसैनिकों ने कर्नाटक सरकार के खिलाफ लगाए नारे
अजय सिंह / मुंबई
अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वहां मंच से छत्रपति शिवाजी महाराज का गुणगान किया, वहीं दूसरी ओर कर्नाटक में भाजपा शासित येदियुरप्पा सरकार ने छत्रपति शिवाजी महाराज का अपमान किया है। शिवसेना छत्रपति शिवाजी महाराज का अपमान कभी सहन नहीं करेगी। ऐसा शिवसेना के विधान परिषद सदस्य व विभागप्रमुख विलास पोतनीस ने कल विरोध प्रदर्शन के दौरान कहा। उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा से दोगली राजनीति करती रही है।
बता दें कि कल बोरीवली-पूर्व नेशनल पार्क के सामने ओमकारेश्वर मंदिर के पास कर्नाटक के बेलगांव में छत्रपति शिवाजी महाराज का पुतला हटाए जाने से आक्रोशित सैकड़ों की संख्या में शिवसैनिकों ने जमकर विरोध-प्रदर्शन किया। इस अवसर पर मागाठाणे के शिवसेना विधायक प्रकाश सुर्वे ने कहा कि चुनाव के समय यही भाजपावाले ‘जय भवानी, जय शिवाजी’ के नारे लगते हैं। इन्हीं की पार्टी की येदियुरप्पा सरकार छत्रपति शिवाजी महाराज का कर्नाटक में अपमान करती है। यह हम शिवसैनिक कभी सहन नहीं कर सकते। उन्होंने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि भाजपा की इस दोगली राजनीति को देखें और समझें। आनेवाले चुनाव में फिर शिवाजी महाराज के नाम पर वोट मांगने आएंगे तब कर्नाटक में किए गए इस अपमान को लेकर सवाल जरूर पूछना। शिवसेना के पूर्व नगरसेवक अभिषेक घोसालकर का कहना है कि भाजपा का दोगला चेहरा अब सब के सामने आ चुका है। महाराष्ट्र में वोट पाने के लिए शिवाजी महाराज का सहारा लेती है और कर्नाटक में अपमान करती है। उन्होंने यह भी कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज सिर्फ महाराष्ट्र के ही नहीं बल्कि देशभर के करोड़ों हिंदुओं के आराध्य हैं। विरोध प्रदर्शन में प्रभाग समिति अध्यक्ष संध्या दोषी, नगरसेवक संजय घाड़ी, गीता सिंगण, सुजाता पाटेकर, माधुरी भोईर, भाष्कर खुरसंगे सहित सैकड़ों शिवसैनिक उपस्थित रहे।

‘हाय-हाय’ के नारों से गूंजा आसमान
सामना संवाददाता / मुंबई
छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा रातों-रात गायब करनेवाली कर्नाटक की भाजपा सरकार के खिलाफ शिवसैनिकों का क्रोध बढ़ता जा रहा है। इसका असर जोगेश्वरी में भी दिखा। कर्नाटक सरकार के विरोध में शिवसेना नगरसेवक राजू श्रीपाद पेडणेकर के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने धरना-प्रदर्शन किया और कर्नाटक सरकार के खिलाफ नारे लगाए। राजू श्रीपाद पेडणेकर ने इस मौके पर उपस्थित शिवसैनिकों को भाजपा की दोहरी नीति की बात बताई। जोगेश्वरी में शिवसैनिकों के इस धरना-प्रदर्शन में शाखाप्रमुख गोविंद वाघमारे, युवासेना विभाग अधिकारी मोहित पेडणेकर, उपशाखाप्रमुख अशोक खाड़े, पप्पू कन्नौजिया, भरत यादव सहित बड़ी संख्या में युवा सैनिक व शिवसैनिक उपस्थित थे।
येदियुरप्पा सरकार हाय-हाय
सामना संवाददाता / मुंबई
अंधेरी-पश्चिम में भी शिवसैनिकों ने कर्नाटक सरकार के खिलाफ आंदोलन किया। अपना बाजार शिवसेना शाखा क्रमांक ६३ के शाखाप्रमुख सुबोध चिटनिस के नेतृत्व में उपस्थित शिवसैनिकों ने कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार का विरोध किया। शिवसैनिक ‘जय भवानी, जय शिवाजी’ के नारे लगाए। इसी तरह येदियुरप्पा सरकार हाय-हाय के नारे लगाए गए। छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा हटाने को लेकर शिवसैनिकों में नाराजगी है। इसलिए वे कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार के विरोध में कल सड़क पर उतरे। इसी तरह शिवसेना शाखा क्रमांक ५९-६० द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शिवसैनिक येदियुरप्पा हाय-हाय के नारे लगाए गए। इस अवसर पर विधानसभा संगठक शैलेष फणसे, उप विभागप्रमुख राजेश शेट्ये, शाखाप्रमुख सतीश परब, सिद्धेश चाचे, नगरसेविका प्रतिमा खोपडे सहित शिवसेना, युवासेना के विभिन्न पदाधिकारी उपस्थित थे।