मुंबई से शिर्डी प्राइवेट ट्रेन!

रेल यात्री सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए रेलवे ने ट्रेनों को निजी कंपनियों को सौंपने की तैयारी की है। इस योजना को अमल में लाने के लिए रेलवे ने शॉर्ट रूट की ट्रेनों को चुना है जो ५०० किमी के अंतराल पर चलती हैं। ऐसे में रेलवे प्राथमिकता के आधार पर ट्रायल के लिए मुंबई से शिर्डी के बीच प्राइवेट ट्रेन चला सकती है। इसके बाद रेलवे की टॉप लिस्ट में दिल्ली से लखनऊ के बीच चलनेवाली ट्रेनें भी हैं। ये सभी रूट ऐसे हैं जिनकी दूरी ५०० किमी के अंतराल पर है। रेलवे बोर्ड की योजना के अनुसार सबसे व्यस्त रूट जिसके बीच की दूरी ५०० किमी है, उस रूट की ट्रेनों को प्राइवेट कंपनियों के हाथों दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार दिल्ली से लखनऊ के बीच की दूरी ५०० किमी है और इस रूट पर यात्रियों का बोझ काफी अधिक है। इस रूट पर चलनेवाली स्वर्ण शताब्दी ६.३० घंटे का समय लेती है, वहीं मुंबई से शिर्डी के बीच सिर्फ दो ट्रेने हैं। शुरुआती दौर में आईआरसीटीसी दो ट्रेनों को चलाने की इजाजत प्राइवेट कंपनियों को देगी। रेल अधिकारियों का कहना है कि आगामी १०० दिनों के भीतर प्राइवेट कंपनियां कम से कम एक ट्रेन चलाने के लिए तैयार हो जाएंगी। हालांकि प्राइवेट ट्रेन में यात्रा करनेवाले यात्रियों को कितना किराया देना होगा, यह अभी रेलवे तय नहीं कर पाई है।