" /> लॉक डाउन के बीच मजदूरों ने की गांव जाने की मांग : बांद्रा में हजारों की तादाद में जुटी भीड़

लॉक डाउन के बीच मजदूरों ने की गांव जाने की मांग : बांद्रा में हजारों की तादाद में जुटी भीड़

लॉक डाउन-2 के एलान के बाद आज बांद्रा में हजारों मजदूरों की भीड़ इकट्ठा हो गई। बांद्रा-पश्चिम में रेलवे स्टेशन से सटे बस डिपो में अचानक जुटे लोगों की भीड़ देखते ही देखते बढ़ती चली गई। बताया जा रहा है, भीड़ में ज्यादातर लोग दूसरे राज्यों से आए मजदूर थे। ये मजदूर लॉक डाउन की मियाद बढ़ने से नाखुश थे। इनलोगों की मांग है कि उन्हें जल्द से जल्द गांव पहुंचाने का इंतजाम किया जाय।

भीड़ में जुटे मजदूरों का कहना है कि उनके पास खाने के लिए राशन नही है और न ही उनके पास पैसे बचे हैं। काम नहीं मिलने के कारण रोजी-रोटी चलाना काफी मुश्किल साबित हो रहा है। उन्हें उम्मीद थी कि 14 अप्रैल को कुछ दिनों तक लॉक डाउन खत्म हो जाएगा और वे लोग सकुशल अपने गांव वापस जा सकेंगे। लेकिन लॉक डाउन बढ़ने व बस-ट्रेन एवं हवाई यात्रा पर बंदी जारी रहने से उनके लिए गांव लौटना असंभव हो गया है। भीड़ को समझाने के लिए पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। मौके पर पहुंची पुलिस भीड़ को आसानी से काबू नही कर सकी। इसलिए पुलिसकर्मियों को लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा। फिलहाल सवाल यह उठ रहा है कि लॉक डाउन के बावजूद इतनी भीड़ इकट्ठा कैसे हुई?