मैं निर्दोष हूं, कोर्ट में गिड़गिड़ाए राहुल! मानहानि मामले में मिली जमानत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े एक मानहानि मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी शिवड़ी कोर्ट में पेश हुए। कोर्ट में राहुल ने खुद को निर्दोष बताया, जिसके बाद उन्हें अग्रिम जमानत मिल गई है। कोर्ट से बाहर निकलने पर राहुल ने कहा कि हमला हो रहा है लेकिन मजा आ रहा है। राहुल ने १० गुना ज्यादा ताकत से संघर्ष करने का जज्बा भी दोहराया।
बता दें कि राहुल गांधी के खिलाफ एक आरएसएस कार्यकर्ता ने मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोप है कि राहुल गांधी ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या को भाजपा- आरएसएस की विचारधारा से जोड़ा था। कोर्ट में सुनवाई के दौरान राहुल गांधी ने अपने आपको बेकसूर बताया। इसके बाद कोर्ट ने १५ हजार रुपए के निजी मुचलके पर अग्रिम जमानत दे दी। पूर्व सांसद एकनाथ गायकवाड़ ने राहुल गांधी की जमानत ली। गौरतलब हो कि गौरी लंकेश की सितंबर २०१७ में बंगलुरु में उन्हीं के घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। शिकायतकर्ता ध्रुतिमन जोशी ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और सीपीएम नेता सीताराम येचुरी पर भी ऐसे मामले दायर किए थे, जिन्हें खारिज कर दिया गया था। जोशी ने अपनी याचिका में कहा कि लंकेश की हत्या के मुश्किल से २४ घंटों के बाद ही राहुल गांधी ने हत्या के लिए आरएसएस और उसकी विचारधारा को जिम्मेदार ठहरा दिया था। गौरतलब हो कि महाराष्ट्र में राहुल गांधी के खिलाफ किसी आरएसएस कार्यकर्ता द्वारा दायर की गई यह दूसरी याचिका है। इससे पहले २०१४ में एक स्थानीय कार्यकर्ता राजेश कुंते ने महात्मा गांधी की हत्या के लिए कथित रूप से आरएसएस पर आरोप लगाने के लिए राहुल के खिलाफ याचिका दायर की थी। वह मामला भिवंडी अदालत में लंबित है।