बारिश से लोकल पस्त

लगातार पिछले पांच दिन से हो रही मूसलाधार बारिश ने मुंबईकर को पस्त कर दिया है। इस बारिश में मुंबई की लाइफलाइन लोकल ट्रेनों का संचालन जहां बुरी तरह से प्रभावित हुआ है, वहीं विजिबिलिटी कम होने से हवाई सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं, जिस कारण मुंबई के एयर ट्रैफिक को आसपास के एयरपोर्ट्स पर डायवर्ट करना पड़ा है। बारिश के कारण कल स्कूल और दफ्तर बंद रहे। स्थिति को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने सार्वजनिक छुट्टी का एलान कर दिया था।
लोकल ट्रेनों का हाल 
भारी बारिश के कारण ट्रेनें रद्द हुर्इं, जिससे ठाणे रेलवे स्टेशन पर कई यात्री घंटों फंसे रहे। ऐसे में इन लोगों के लिए रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स ने चाय-नाश्ते का इंतजाम किया। रास्ते में फंसीं ८ ट्रेनों के यात्रियों को भी पानी उपलब्ध कराया गया। बारिश को देखते हुए फिलहाल सेंट्रल रेलवे की ट्रेनें हार्बर लाइन पर छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से बांद्रा, वाशी से पनवेल, ट्रांस-हार्बर लाइन पर ठाणे-वाशी पनवेल के बीच, चौथे कॉरिडोर से खारकोपर और मेन लाइन पर ठाणे से कसारा, करजत और खोपोली के बीच चलीं।
कई ट्रेनें थमीं
मध्य रेलवे पर सीएसएमटी से ठाणे के बीच, वेस्टर्न लाइन पर बोरिवली से वसई के बीच और हार्बर लाइन पर सीएसएमटी से वाशी रोड के बीच ट्रेनें बंद थीं। पालघर, नालासोपारा, शीव और दूसरे स्टेशनों पर रेलवे ट्रैक पानी से लबालब भर गए थे। पश्चिम रेलवे में भारी बारिश से नालासोपार, विरारा और पालघर में जलजमाव के कारण ट्रेन संख्या १२९०४, २२९०४, २२९२८, १२९६२, १२९०२, १९२०८, १९२१८, २२९४४, १२९२८, १२२६४, १९४२४, १२४५०, १९०२०, ५९४४२, १२२९८ और १२२६८ को रोक दिया गया। हालांकि चर्चगेट से वसई रोड के बीच ट्रेनें सुचारु रूप से चल रही थीं।
यहां रहा सबसे ज्यादा जाम
हिंदमाता, नेताजी पालकर चौक, अंधेरी, एसवी रोड अंधेरी सबवे और साकीनाका में भरे पानी को मनपा ने पंप से निकाला, वहीं वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित रहा। बारिश के बीच यहां गाड़ियां जाम में घंटों फंसी रहीं। कुर्ला के क्रांतिनगर इलाके में मीठी नदी का जलस्तर बढ़ने से किसी अनहोनी की आशंका को देखते हुए करीब १००० लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। किंग्स सर्कल और कुर्ला में भारी जलजमाव रहा।
पश्चिम रेलवे का दावा
पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता रवींद्र भाकर के अनुसार पिछले ७२ घंटों के दौरान (२८ जून से ३० जून, २०१९ तक) मुंबई उपनगरीय क्षेत्र में भारी बारिश के साथ हाई टाइड भी थी। इस दौरान विरार में ६२० मिमी, बोरीवली में ४१० मिमी, अंधेरी में २९५ मिमी तथा दादर में ३३६ मिमी बारिश हुई। इतने कम समय में ऐसी भारी बारिश के बावजूद पश्चिम रेलवे के उपनगरीय नेटवर्क पर जलजमाव नहीं देखा गया। कुछ छोटी-मोटी सर्किट विफलताओं को छोड़कर सभी लाइनों पर यातायात सामान्य रहा। सभी स्टेशनों एवं सेक्शनों में चौबीसों घंटे अधिकारियों की तैनाती की गई है। स्टेशनों पर तथा सेक्शनों में रेलवे कर्मचारियों द्वारा कलवर्ट एवं नालों की सफाई की जा रही है। जल के स्तर की चौबीसों घंटे मॉनिटरिंग  हेतु रेलकर्मियों को तैनात किया गया है तथा हैवी ड्यूटी पंप  स्थापित किए गए हैं।आज संडे टाइम टेबल पर लोकल
मौसम विभाग ने आगामी २४ घंटे में भारी बारिश की चेतावनी दी है। मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए मध्य रेलवे पर संडे  टाइम टेबल के हिसाब से लोकल चलाई जाएगी।