" /> राज्यपाल हटाओ!… सपा और सीपीआई की बुलंद आवाज

राज्यपाल हटाओ!… सपा और सीपीआई की बुलंद आवाज

राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी के अशोभनीय वक्तव्य पर अब अन्य दलों ने भी नाराजगी जाहिर की है। समाजवादी पार्टी और सीपीआई ने राज्यपाल के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए उन्हें राज्यपाल के पद से हटाने की मांग राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से की है।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लिखे पत्र में सपा विधायक अबू आसिम आजमी ने राज्यपाल के उस पत्र पर आपत्ति जताई है, जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को हिंदुत्व भुलाने और धर्मनिरपेक्ष की ओर बढ़ने का जिक्र किया था। आजमी ने अपने पत्र में कहा कि राज्यपाल एक संवैधानिक पद है और राज्यपाल को किसी धर्म विशेष अथवा पार्टी का प्रतिनिधित्व नहीं करना चाहिए। मंदिर खुलवाने के लिए उद्धव ठाकरे को हिंदुत्व याद दिलाना संविधान का अपमान है इसलिए भगतसिंह कोश्यारी को राज्यपाल के पद से तत्काल हटा देना चाहिए, ऐसी मांग आजमी ने पत्र के माध्यम से राष्ट्रपति से की है।
इसी तरह मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) ने भी राज्यपाल को उनके पद से तत्काल हटाने की मांग की है। सीपीआई के राज्य सचिव नरसैया आडम ने कहा कि राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी निभाने में असक्षम हैं। यह उन्होंने खुद ही जाहिर कर दिया है। संविधान की अवहेलना को रोकने के लिए राज्यपाल कोश्यारी को तुरंत हटा देना चाहिए। इसके अलावा अवामी विकास पार्टी के शमशेर पठान ने भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर राज्यपाल को उनके पद से हटाने की मांग की है।