संयुक्त परिवार से संस्कृति जीवित रहेगी! -राजपाल यादव

अपने दमदार अभिनय से पहचाने जानेवाले अभिनेता राजपाल यादव इन दिनों फिल्मकार मनोज शर्मा की फिल्म खली-बली की शूटिंग में व्यस्त हैं। प्रस्तुत है राजपाल यादव से सोमप्रकाश ‘शिवम’ की हुई बातचीत के प्रमुख अंश–
फिल्म खली बली में निभाए अपने किरदार के बारे में बताएं?
यह एक हॉरर कॉमेडी फिल्म है जो दर्शकों में उत्साह का संचार करेगी। इस फिल्म में मेरे किरदार का नाम गोपाल है। फिल्म का निर्देशन गदर फेम अनिल शर्मा के कभी सहायक रह चुके मनोज शर्मा कर रहे हैं, वहीं फिल्म का निर्माण कमल किशोर शर्मा द्वारा किया जा रहा है।
इस फिल्म से आपके करियर को लेकर क्या उम्मीदें हैं?
मेरे जीवन में करियर को लेकर मेरी कोई अपेक्षा नहीं है। मेरा काम है अभिनय करना, वह मैं अपनी बाल्यावस्था से ही पूरी मेहनत और ईमानदारी से करता आ रहा हूं।
लोगों का मानना है कि आपने अपने समकालीन कई कॉमेडियनों की सिल्वर स्क्रीन से छुट्टी करा दी है। क्या आप इससे सहमत हैं?
बिल्कुल भी नहीं, मैंने जीवन में प्रेरणा बहुतों से ली है लेकिन कभी किसी को कॉपी नहीं किया। हर दिन कुछ नया करने की कोशिश जरूर करता हूं। मेरी वजह से किसी का करियर तबाह न हो, यह ईश्वर से प्रार्थना करता हूं। मैं तो वसुधैवकुटुंबकम् का अनुयायी हूं।
चर्चा है कि अभिनेता अक्षय और सलमान कैंप के बाद अब डेविड धवन कैंप की कृपा आप पर निरंतर बरस रही है। आप क्या मानते हैं?
मुझे नहीं मालूम वैंâप किसको कहते हैं। मैं तो सर्व समाजी आदमी हूं, मुझे जहां प्यार से बैठने को मिलता है, वहां बैठता हूं और काम करता हूं। इस दुनिया में मेरे कितने दोस्त हैं ये तो मुझे नहीं पता लेकिन मेरी जानकारी में अभी तक मेरा दुश्मन कोई नहीं है।
परिवार के बारे में आपका क्या मत है?
मैं आज जो कुछ भी हूं अपने परिवार की बदौलत हूं। हमें कभी भी अपनी जिम्मेदारियों से नहीं भागना चाहिए। जब तक संयुक्त परिवार रहेगा तभी तक हमारी संस्कृति भी जीवित रहेगी।