" /> अयोध्या गए शिवसैनिक लौटे मुंबई साहेब के स्मृतिस्थल पर सरयू का पवित्र जल अर्पित

अयोध्या गए शिवसैनिक लौटे मुंबई साहेब के स्मृतिस्थल पर सरयू का पवित्र जल अर्पित

अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बने, यह हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख श्री बालासाहेब ठाकरे का संकल्प था। यह संकल्प आज साकार हो रहा है। मीरा-भाइंदर के नगरसेवक विक्रम प्रताप सिंह कुछ शिवसैनिकों के साथ श्री राममंदिर भूमिपूजन के दिन अयोध्या गए थे। वे अपने साथ शिवसेनाप्रमुख के स्मृति स्थल की पवित्र मिट्टी अयोध्या ले गए थे। कल अयोध्या से मुंबई लौटे शिवसैनिकों ने शिवतीर्थ पर स्थित शिवसेनाप्रमुख के स्मृतिस्थल पर जाकर साहेब की प्रतिमा के समक्ष नतमस्तक हुए और अयोध्या से लाए हुए सरयू नदी के पवित्र जल को स्मृतिस्थल पर अर्पित किया।
शिवसेनाप्रमुख और हजारों शिवसैनिकों ने राम जन्मभूमि में श्री राममंदिर के निर्माण के लिए कड़ा संघर्ष किया है। शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक के मार्गदर्शन में मीरा-भाइंदर शिवसेना पार्षद विक्रम प्रताप सिंह ५ अगस्त को शिवसेना की ओर से अयोध्या गए थे। वहां उन्होंने साधु-संतों की मौजूदगी में सरयू नदी में साहेब के स्मृतिस्थल की पवित्र मिट्टी को प्रवाहित किया और वहां ४९२ दीप जलाए क्योंकि ४९२ वर्षों के इंतजार के बाद राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हुआ है।
अयोध्या से लौटने पर विक्रम प्रताप अपने साथ रुद्राक्ष की माला, एक शाल, ‘श्रीयंत्र’ और ‘सरयू नदी का पवित्र जल’ ले आए थे। मुंबई पहुंचने के बाद शनिवार को मंत्रोच्चार के साथ शिवसेनाप्रमुख के स्मृतिस्थल पर पवित्र जल का अभिषेक किया गया। शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक द्वारा स्मृतिस्थल पर इस पवित्र जल से अभिषेक करते ही सभी ने ‘जय श्रीराम’ व शिवसेनाप्रमुख अमर रहे का उद्घोष किया। इस मौके पर शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक के साथ, पार्षद विक्रम प्रताप सिंह, उपजिलाप्रमुख राजू भोईर और अन्य शिवसैनिक स्मृतिस्थल पर मौजूद थे।
राममंदिर के लिए हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख श्री बालासाहेब ठाकरे के योगदान को कोई नहीं भूल सकता। जब राममंदिर का भूमिपूजन शुरू हुआ तो हर कोई शिवसेनाप्रमुख को याद कर रहा था। शिवसेनापक्षप्रमुख व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी पिछले कुछ वर्षों में समय-समय पर राममंदिर का मुद्दा उठाया है। रामभक्त, शिवसैनिक जैसे लाखों लोगों का सपना सच हो गया है। तय समय पर अयोध्या में राममंदिर बन जाएगा, ऐसा मुझे दृढ़ विश्वास है।
– शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक