" /> दरबार और पुलिस स्टेशन के द्वार पर लगा सेनिटाइजर स्प्रे गेट : विश्व सिंधी सेवा संगम-उल्हासनगर की पहल

दरबार और पुलिस स्टेशन के द्वार पर लगा सेनिटाइजर स्प्रे गेट : विश्व सिंधी सेवा संगम-उल्हासनगर की पहल

उल्हासनगर में आए दिन बढ़ रहे कोरोना के मरीजों को देखते हुए विश्व सिंधी सेवा संगम की तरफ से दरबार व पुलिस स्टेशन के द्वार के सामने सुरक्षा को देखते हुए सैनिटाइजर स्प्रे गेट लगाया गया है। इसका स्प्रे गेट का उदघाटन 1 मई, 2020 महाराष्ट्र व मजदूर दिवस के अवसर पर किया गया।

बता दें कि उल्हासनगर के एक बड़े हिस्से को भोजन की व्यवस्था में लगे दरबार व पुलिस कार्यालय में बड़ी संख्या में लोग प्रतिदिन आते-जाते हैं। स्प्रे गेट लगने से अब यहां आने-जानेवाले लोग सेनिटाइज होकर अंदर आएंगे। विश्व सिंधी सेवा संगम के अध्यक्ष प्रकाश तलरेजा ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान प्रतिदिन दरबार में चल रहे लंगर में शहर से करीबन पांच हजार लोग भोजन प्रसाद लेते हैं। यही नहीं, पूरे शहर के कोने-कोने से भोजन रूपी प्रसाद को गरीब और भूखे लोगों तक पहुंचाने के लिए 100 के करीब सेवाधारी आते हैं। कब कौन कोरोना लेकर आ जाए? कह नहीं सकते हैं। कोरोना जैसी बीमारी से निर्भीक होकर लड़ने के लिए धनगुरु नानक डेरा संत बाबा थाहिरिया सिंघ साहब दरबार के मुख्य द्वार, उल्हासनगर पुलिस स्टेशन तथा अपराध अन्वेषण शाखा, घटक-4 के मुख्य द्वार पर सेनिटाइजर फव्वारा  लगाया गया, जिसका उपयोग पुलिस व नागरिक कर रहे हैं। पुलिस व दरबार के सामने सेनिटाइजर फव्वारा के उदघाटन के समय पुलिस अधिकारी के साथ-साथ विश्व सिंधी सेवा संगम, उल्हासनगर के शहर पदाधिकारी, दरबार साहब के प्रमुख भाई साहब त्रिलोचन सिंघ जी और उल्हासनगर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक राजेंद्र कदम के अलावा पुलिस विभाग के  अधिकारी व सिपाही उपस्थित थे।