" /> हजारों बेसहारा गरीबों का सहारा बना सेतू चैरिटेबल ट्रस्ट

हजारों बेसहारा गरीबों का सहारा बना सेतू चैरिटेबल ट्रस्ट

महाराष्ट्र सरकार के अधीन संचालित ‘सेतू चैरिटेबल ट्रस्ट’ के सौजन्य से प्रतिदिन 13 से 15 हजार लोगों में भोजन का वितरण किया जा रहा है। यह ट्रस्ट महाराष्ट्र सरकार के पूर्व मुख्य सचिव सतीश त्रिपाठी द्वारा संचालित है।
गौरतलब है महाराष्ट्र सरकार के पूर्व मुख्य सचिव सतीश त्रिपाठी व उनके अन्य सहयोगी मिलकर सेतू चैरिटेबल ट्रस्ट का गठन किया था। पिछले लंबे अरसे से सेतू के माध्यम से पूरे राज्य में अनेक सराहनीय काम जारी हैं। कोरोना की महामारी शुरू होने से लेकर अब तक सतीश त्रिपाठी के माध्यम से गरीब तबके के लोगों में सुबह और शाम का भोजन वितरण किए जाने का काम हो रहा है। मुंबई के कई इलाकों के अलावा ठाणे के मुंब्रा, कौसा, भिवंडी व वसई के कई ठिकानों पर सेतू के अधीन कार्यरत सदस्य भोजन वितरण करने का काम कर रहे हैं। त्रिपाठी के करीबी सहयोगी अखिल ताड़े ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा जारी हर नियम और कानून का पालन करते हुए हम लोग अपने कार्यों को पूरा कर रहे हैं। गत सप्ताह हजारों लोगों में अनाज के किट भी बांटे गए हैं। एक तरह से ‘सेतू’ गरीबों के लिए बेहद खास सहारा बनकर काम कर रहा है, जो कि एक सराहनीय प्रयास है।