" /> लॉक डाउन में खाने की खुन्नस! मीरा रोड में डबल मर्डर की वजह बनीं

लॉक डाउन में खाने की खुन्नस! मीरा रोड में डबल मर्डर की वजह बनीं

– 12 घंटे में पुलिस ने सुलझाई गुत्थी
– हत्या का आरोपी पूना से हुआ गिरफ्तार
– अच्छा खाना न मिलने के कारण की हत्या

मीरा रोड (पूर्व) शीतल नगर स्थित शबरी बार एंड रेस्टोरेंट में हुए डबल मर्डर की गुत्थी पुलिस ने 12 घंटे के अंदर ही सुलझा ली है। हत्या के आरोपी कल्लू राजू यादव (३५) को पुलिस ने पूना से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की पूछताछ में कल्लू यादव ने बताया कि मैनेजर हरेश शेट्टी खुद होटल से अच्छा खाना मंगाकर खाता था और उसे दाल-चावल खाने को देता था। इस बात को लेकर उनमें कहासुनी और विवाद हुआ था। इस बात से नाराज होकर उसने रात को सोते समय हरेश शेट्टी और नरेश पंडित की फावड़े (कुदाल) से मारकर हत्या कर दी थी। हत्या के सबूत को मिटाने के लिए यादव उन दोनों की लाश को होटल के अंडर ग्राउंड पानी टंकी में डालकर उन दोनों का मोबाइल फोन लेकर फरार हो गया था। ऐसी जानकारी ठाणे ग्रामीण पुलिस अधीक्षक डॉ. शिवाजी राठौड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दी।
ज्ञात हो कि गुरुवार रात को करीब ११ बजे शबरी बार एंड रेस्टोरेंट के मालिक गंगाधर शीना पयाडे ने मीरा रोड पुलिस को इस डबल मर्डर की जानकारी दी थी। इसके बाद ठाणे ग्रामीण पुलिस अधीक्षक डॉ. शिवाजी राठौड़, अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार पाटील के आदेश पर मीरा रोड विभागीय पुलिस अधीक्षक शांताराम वलवी के मार्गदर्शन में स्थानीय अपराध शाखा के पुलिस निरीक्षक व्यंकट आंधले और मीरा रोड पुलिस निरीक्षक संदीप कदम ने इस मर्डर की गुत्थी सुलझाने और हत्यारे को पकड़ने के लिए पुलिस की अलग-अलग टीम बनाकर समानांतर जांच शुरू की थी।
संदिग्ध आरोपी कल्लू यादव के मोबाइल फोन का टेक्निकल विश्लेषण करने पर उसके पूना में होने की जानकारी पुलिस को मिली। इसके बाद स्थानीय अपराध शाखा के उपनिरीक्षक चेतन पाटील, सपोनि अनिल वेले, अशोक पाटील, प्रदीप टक्के, दिवेकर, अनिल रावरा की टीम ने कल्लू यादव को पूना के निलायम ब्रिज, पर्वती पायथा के पास साजन बार से गिरफ्तार कर लिया। यादव के पास से मृतकों के मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं।
कल्लू यादव मूलरूप से गांव कंचनपुर पिपरी, जिला मऊ, उत्तरप्रदेश का रहनेवाला है। यादव कोलकत्ता में भी हत्या के केस में जेल की सजा काट चुका है और पूना के स्वारगेट पुलिस थाने में भी उसके खिलाफ मारामारी और दारूबंदी के तहत मामले दर्ज हैं। पुलिस अधीक्षक डॉ. राठौड़ ने सभी बार एंड रेस्टोरेंट के मालिकों को आगाह किया है कि किसी को भी नौकरी पर रखने से पहले उसका फोटो व संपूर्ण व्यक्तिगत विवरण अपने पास रखें व स्थानीय पुलिस को भी इसकी जानकारी दें। क्योंकि शबरी बार एंड रेस्टोरेंट के मालिक पयाडे के पास कल्लू यादव का कोई फोटो या विवरण उपलब्ध नहीं था, जिसकी वजह से पुलिस को कल्लू यादव को पकड़ने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।