" /> थानेदार बना कसाई!, चोरी कबूलवाने के लिए आरोपी के निजी अंग में किया करंट प्रवाहित

थानेदार बना कसाई!, चोरी कबूलवाने के लिए आरोपी के निजी अंग में किया करंट प्रवाहित

झारखंड के पलामू जिले में चोरी के मामले में हिरासत में लिए गए एक व्यक्ति ने जुर्म कबूलवाने के लिए चैनपुर के थानेदार पर आरोप लगाया है कि थानेदार द्वारा उसके गुप्तांग में बिजली का करंट प्रवाहित कर प्रताड़ित किया गया। इस घटना का सच सामने आने के बाद लोग सड़कों पर उतर आए और भारी जाम लगाकर विरोध जताया, जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

पलामू के पुलिस अधीक्षक संजीव कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि चैनपुर थाने से इस प्रकार की शिकायत आई है, जिसमें थानेदार सुमित कुमार पर आरोपी के गुप्तांग में बिजली का करंट प्रवाहित कर उसे प्रताड़ित करने का गंभीर आरोप है। उन्होंने कहा आगे कहा कि मामले की पूरी जांच के निर्देश मेदिनीनगर के अनुमंडल पुलिस अधिकारी संदीप कुमार गुप्ता को दिए गए हैं और आरोप सही साबित होने के बाद कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस घटना के बाद उत्तेजित लोगों ने मेदिनीनगर-गढ़वा सड़क मार्ग को चैनपुर थाना क्षेत्र के शाहपुर में जाम लगा दिया। लोगों ने करीब तीन घंटे तक जाम लगाया, जिसमें दोनों तरफ लगभग ढाई सौ गाड़ियां फंसी रहीं। इस विरोध को देखते हुए पुलिस अधिकारी संदीप कुमार गुप्ता मौके पर पहुंचे और लोगों को जांच कर उचित कार्रवाई करने का भरोसा दिया, जिसके बाद लोगों ने जाम खोला। घटनाक्रम के बारे में पुलिस सूत्रों ने बताया कि गत आठ अक्टूबर की शाम को चैनपुर थाना क्षेत्र के सोनपुरवा गांव के आरोपी को चोरी करने के शक में हिरासत में लिया गया था और पूछताछ के लिए थाने में बंद रखा था। हिरासत के दौरान उसकी उसकी पिटाई की गई और गुप्तांगों में बिजली का करंट प्रवाहित किया गया। आरोपी का इलाज जिला अस्पताल में डॉ. आरके रंजन ने किया और उन्होंने गुप्तांग में गंभीर चोट की पुष्टि भी की है। पीड़ित के परिवारवालों ने इस पूरी घटना की जानकारी एसपी समेत सभी आला-अधिकारियों को दी, जिसके बाद मामले में जांच के आदेश दिए गए। दूसरी तरफ थानेदार ने बताया कि आरोपी के चाचा के घर में चार अक्टूबर को चोरी हुई थी और इसके लिए उन्होंने अपने भतीजे पर ही शक जताया था, जिसके बाद आरोपी को हिरासत में रखकर छानबीन करने और सच्चाई कबूलवाने के लिए पूछताछ की गई।