" /> सोशल मीडिया पर जारी है अफवाह फैलाना : साइबर सेल ने किए 294 मामले दर्ज

सोशल मीडिया पर जारी है अफवाह फैलाना : साइबर सेल ने किए 294 मामले दर्ज

सातारा व पुणे में दर्ज हुए नए मामले
कोरोना महामारी के कारण घोषित किए लॉकडाउन में झूठी अफवाह फैलानेवालों का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। महाराष्ट्र साइबर सेल द्वारा झूठी अफवाह फैलानेवाले 294 मामले पूरे राज्य में दर्ज किए गए हैं और कुल 77 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें कुछ अपराधिक किस्म के लोग सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक संदेश फैलाकर राज्य में तनाव निर्माण करने की फिराक में थे।
महाराष्ट्र साइबर विभाग के अनुसार टिकटॉक, फेसबुक, टि्वटर और अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से झूठे संदेश फैलानेवालों के खिलाफ प्रदेश के विभिन्न पुलिस स्टेशनों में 294 मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें 13 मामले गैर-जमानती हैं। सातारा और पुणे में शनिवार को नए आपराधिक मामले दर्ज किए गए। इनमें बीड में 28, पुणे ग्रामीण 23, मुंबई 20, कोल्हापुर 16, जलगांव 14, सांगली 12, नासिक सिटी 11, नासिक ग्रामीण 10, बुलढाणा 10, जालना 9, लातूर 9, सातारा 9, नांदेड़ 9, परभणी 7, सिंधुदुर्ग 7, ठाणे सिटी 7, नई मुंबई 7, ठाणे ग्रामीण 6, हिंगोली 6, नागपुर सिटी 6, गोंदिया 5, सोलापुर रूरल 5, अमरावती 4, पुणे सिटी 4, रत्नागिरी 4, भंडारा 3, सोलापुर सिटी 3, चंद्रपुर 3, रायगढ़ 2, धुले 2, वाशिम 2, पिंपरी-चिंचवड और संभाजीनगर में एक (एनसी) मामले दर्ज किए गए हैं।
महाराष्ट्र साइबर ने इन सभी अपराधों का विश्लेषण करने पर पाया कि आपत्तिजनक व्हॉट्सऐप संदेशों को अग्रेषित करने के 122 मामले और आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट साझा करने के 107 मामले दर्ज किए गए हैं। टिकटॉक वीडियो के 9 मामले और टि्वटर के माध्यम से आपत्तिजनक ट्वीट्स के 6 मामले दर्ज किए हैं। अन्य सोशल मीडिया (ऑडियो क्लिप, यूट्यूब) के दुरुपयोग के 47 मामले दर्ज किए गए हैं। अब तक 77 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से 36 आपत्तिजनक पोस्ट को हटा लिया गया है।