" /> दिव्यांग जोड़े की शादी में बाराती बनी पुलिस

दिव्यांग जोड़े की शादी में बाराती बनी पुलिस

वधू का किया कन्यादान
सोशल डिस्टेंसिंग का भी हुआ पालन
कोरोना वायरस की महामारी से महाराष्ट्र सर्वाधिक प्रभावित राज्य है।कोरोना को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू है। अंतरराज्यीय और अंतरजनपदीय सीमाएं सील हैं। लोगों को आवागमन की इजाजत नहीं दी जा रही। लेकिन लॉकडाउन के दौरान पुणे पुलिस ने एक दिव्यांग जोड़े की शादी कराई, बल्कि कन्यादान के रस्म को भी पूरा किया।
इस संबंध में पुलिस विभाग के एक अधिकारी कुमार घाडगे ने बताया कि संभाजीनगर शहर से एक युवक ने पुणे आने की इजाजत मांगी।आवेदन में कहा गया था कि पांच बाराती लड़के की तरफ से और पांच लोग लड़की की ओर से शादी के लिए आना चाहते हैं।दूल्हा और दुल्हन दोनों ही दिव्यांग और सुन या बोल नहीं सकते।संवेदनशीलता दिखाते हुए पुलिस ने तुरंत अनुमति दे दी।  इतना ही नहीं पुलिस ने ही कन्यादान की रस्म भी निभाई। बता दे कि संभाजीनगर से शादी के लिए पांच बारातियों के आने का आवेदन मिला, पुलिस ने न सिर्फ शादी के लिए घराती और बाराती पक्ष को आने की अनुमति दी, बल्कि शादी समारोह में विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहै। सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का अनुपालन करते हुए शादी संपन्न हुई। इस दिव्यांग जोड़े की शादी संपन्न कराने के लिए पुलिस की तारीफ हो रही है।