" /> सुल्तानपुर शहर ‘सीलबंद’…ड्रोन से निगरानी , शुरू हुई स्क्रीनिंग डोर टू डोर

सुल्तानपुर शहर ‘सीलबंद’…ड्रोन से निगरानी , शुरू हुई स्क्रीनिंग डोर टू डोर

शहर के बीचोंबीच स्थित मदरसा जामिया इस्लामिया में ठहरे दस सूडानियों में से एक जमाती के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद अब सुल्तानपुर शहर का दो तिहाई इलाका ‘सीलबंद’ हो चुका है। दर्जनों मुहल्लों व चौक सहित प्रमुख बाजारों के मुहानों की बैरिकेडिंग करके आवागमन पूरी तरह प्रतिबंधित करने के साथ लोगों के घरों से निकलने पर सख्त पाबंदी लगा दी गई है। ग्रामीणांचल के ढेमा कस्बे को भी दिल्ली से लौटे एक व्यक्ति में संक्रमण की पुष्टि के बाद आवागमन के लिए प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित कर दोनों जगहों पर स्क्रीनिंग का कार्य तेज कर दिया गया है। वहीं सारा शहर अब ‘ड्रोन’ की निगरानी में है।

सुल्तानपुर में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या २ है। जबकि सैकड़ों लोग क्वारेंटाइन किये जा चुके हैं। गुरुवार को डीएम सी इंदुमती व एसपी शिवहरि मीणा की उपस्थिति में शहर के कंटेन्मेंट क्षेत्र खैराबाद की एक किलोमीटर की परिधि की निगरानी के लिए शाहगंज पुलिस चौकी स्थित पुलिस नियंत्रण कक्ष से ड्रोन को उड़ा कर इसकी शुरुआत की गई। एएसपी शिवराज ने बताया , ड्रोन की नजर से खैराबाद ,चौक, मेजरगंज, दरियापुर, लखनऊनाका, बाधमण्डी, राहुल चौराहा, ठठेरीबाजार आदि क्षेत्रों में लॉकडाउन तोड़ने वालों की शिनाख्त सहजता से पुलिस कर लेगी। इसके अलावा सभी संवेदनशील स्थलों पर थानेदारों के साथ पर्याप्त पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। साथ में घर घर जाकर हेल्थ टीमें लोगों के सेहत की भी पड़ताल कर रही हैं। सभी मुहल्लों को पालिका ने सैनीटाइज भी कराना शुरू कर दिया है।