" /> सुशांत की मौत पर शरद पवार का ट्वीट, ‘नरेंद्र दाभोलकर हत्याकांड जैसी न हो सुशांत की सीबीआई जांच’

सुशांत की मौत पर शरद पवार का ट्वीट, ‘नरेंद्र दाभोलकर हत्याकांड जैसी न हो सुशांत की सीबीआई जांच’

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को सौंप दी है। इस मामले पर राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने भी अपनी प्रतिक्रिया कल ट्वीट करके दी है। शरद पवार ने ट्वीट कर कहा कि उन्हें आशा है कि इस जांच के परिणाम डॉ. नरेंद्र दाभोलकर की हत्या की जांच जैसे नहीं होंगे, जिसका अभी तक कोई हल नहीं निकल पाया है। शरद पवार ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत जांच प्रक्रिया सीबीआई को हस्तांतरित करने का आदेश दिया है। मुझे यकीन है कि महाराष्ट्र सरकार इस निर्णय का सम्मान करेगी और जांच में पूरी तरह से सहयोग करेगी।’ पवार के इस ट्वीट के कई मायने लगाए जा रहे हैं। बता दें कि साल २०१३ में दाभोलकर हत्याकांड हुआ था। हाई कोर्ट ने ७ महीने बाद इस पूरे मामले को सीबीआई के हवाले कर दिया था। लेकिन अब तक दाभोलकर हत्याकांड की गुत्थी को सीबीआई नहीं सुलझा सकी है। गौरतलब है कि स्व. डॉ.नरेंद्र दाभोलकर की महाराष्ट्र के पुणे शहर में ओंकारेश्वर पुल के पास २० अगस्त २०१३ को दो मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। दाभोलकर अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति चलाते थे और अंधविश्वास के खिलाफ उनकी जंग चल रही थी। बता दें कि इससे पहले गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि फिल्म अभिनेता की मौत को लेकर सिर्फ सियासत हो रही है। इसकी सबसे बड़ी वजह बिहार में होनेवाले चुनाव हैं, जहां पर भाजपा सुशांत की मौत को मुद्दा बना रही है। उन्होंने यह भी कहा कि संघीय ढांचे का भी ख्याल संविधान विशेषज्ञों को रखना चाहिए।